33 हजार मास्क, 572 सेनेटाइजर, 646 राशनकिट वितरित कर चुके हैं संघ के स्वयंसेवक

Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

एटा, 06 अप्रैल (हि.स.). कोरोना वायरस की वैश्विक महामारी के बीच चट्टान की तरह अडिग राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के स्वयंसेवकों का सदैव की तरह एक बार पुनः सेवाभावी रूप सामने आया है.

स्वयंसेवक लाॅकडाउन के दौरान परेशान श्रमिकों, गरीब परिवारों व जरूरतमंदों को अकेले एटा जनपद में अब तक 33 हजार, मास्क, 572 सेनेटाइजर, 646 राशनकिट, 2055 खाद्यान्न के पैकेट्स का वितरण करा चुके हैं. इसके अलावा पलायन के समय इन्होंने 22 हजार भोजन पैकेट व 150 किग्रा दूध का वितरण किया था.

संघ के ब्रज प्रांत के कार्यवाह राजपाल जी के अनुसार ब्रज प्रांत के अंतर्गत आनेवाले सभी जिलों में संघ के सेवाभावी स्वयंसेवक व अनुषांगिक संगठनों के कार्यकर्ता लाॅकडाउन से परेशान श्रमिक, मजदूर, गरीब परिवारों को उनके घर-घर जाकर मास्क, भोजन, राशन किट व औषधियों का वितरण करा रहे हैं.

वहीं जिला प्रचारक विशाल ने जानकारी दी है कि एटा जिले में स्वयंसेवकों द्वारा लाॅकडाउन होने के बाद दिल्ली, एनसीआर आदि से अपने घरों को लौट रहे 22 हजार लोगों को भोजन पैकेट व 150 किग्रा दूध का वितरण कराया था.

इसके अलावा अब तक 2055 परिवारों को खाद्यान्न पैकेट, 33 हजार मास्क, 572 सेनेटाइजर, 646 राशन किट का वितरण कराया जा चुका है. शहर में स्थाई रूप से कई स्थानों पर भोजनालय चलाए जा रहे हैं.

वहीं निधौली कलां खंड के स्वयंसेवकों द्वारा मास्क का निर्माण व वितरण किया जा रहा है. जिले में अब तक लगभग 1 लाख मास्क तैयार किये जा चुके हैं. इसके अलावा 72 ग्रामीण शाखाओं ने ग्रामों का सर्वे कर 280 पात्र परिवारों को राशन व भोजन की व्यवस्था की है.

हिन्दुस्थान समाचार/कृष्णप्रभाकर/राजेश