कांग्रेस परवाह नहीं करती, कोई आए या कोई जाएः आरपीएन सिंह

सबा एक़बाल

रांची, 30 अक्टूबर (हि.स.) . झारखंड कांग्रेस प्रभारी आरपीएन सिंह ने कहा कि कांग्रेस छोड़कर भाजपा में जाने वाले उन सभी को झारखण्ड की जनता और कांग्रेस के कार्यकर्ता आगामी विधानसभा चुनाव में उसी प्रकार सबक़ सिखाएंगे जिस प्रकार अल्पेश ठाकोर और देशभर के दूसरे नेताओं को जनता ने सबक़ सिखाया है. उन्होंने कहा कि कांग्रेस की सेहत पर नेताओं के दल बदलने से कोई फर्क नहीं पड़ा है .

30 अक्टूबर को झारखण्ड़ में कांग्रेस पार्टी द्वारा प्रस्तावित ‘‘जन आक्रेश रैली’’ में भाग लेने रांची पहुंचे झारखण्ड के प्रभारी आरपीएन सिंह से हिन्दुस्थान समाचार की हुई खास बातचीत में पार्टी के दो विधायक सुखदेव भगत, मनोज यादव और केन्द्रीय सचिव अरूण उरांव के भाजपा में शामिल होने पर अपनी प्रतिक्रिया दे रहे थे .

उन्होंने कहा कि इनके जाने से पार्टी को काई फर्क नहीं पड़ता, चनाव के आते ही नेताओं का दल बदलना आम बात है, लेकिन कांग्रेस छोड़ने वालों का परिणाम पूरे देश में सबके सामने है. अल्पेश ठाकोर जैसे नेताओं का राजनीतिक पतन हो गया है . झारखण्ड की जनता और कांग्रेस के कार्यकर्ता भाजपा में शामिल होने वाले विधायकों और नेताओं को जरूर सबक सिखायेंगे .

निशिकांत दुबे ने भाजपा की सच्चाई को सामने लाया

दो दिन पहले गोड्डा से भाजपा के सांसद निशिकांत दुबे के विवादित बयान, कि भाजपा चोर-बदमाश, लंगड़ा-लुल्हा जिसे भी टिकट दे दे उसकी जीत निश्चित है, पर प्रतिक्रिया देते हुए आरपीएन सिंह ने कहा कि यह तो भाजपा का थीम बन चुका है, अपराधी और दाग़ी लोगों को पार्टी में शामिल कर उन्हें सांसद और विधायक बनाना !

निशिकांत दुबे ने तो उस सच्चाई को जनता के समक्ष लाने का काम किया है. जनता इस बात को जानती है, यह और बात है कि इसपर पार्टी के एक सांसद ने मुहर लगा दी है.

महागठबंधन पर चुप्पी साधी आरपीएन ने

आरपीएन सिंह से झारखण्ड में महागठबंधन पर बात करने पर उन्होंने चुप्पी साध ली और प्रतिक्रिया से साफ इंकार कर दिया. उन्होंने कहा कि महागठबंधन पर अभी कुछ नहीं बोल सकता, अगर कुछ तय होता है तो मीडिया को जरूर बताया जाएगा. पूछे जाने पर की पेंच कहाँ फंस रहा है, आरपीएन सिंह थोड़े झल्लाते हुए कहा कि हम अपनी रणनीति आपको नहीं बता सकते.

65 पार का नारा देने वाली भाजपा को 25 सीटें भी नहीं मिलेगी

आरपीएन सिंह ने भाजपा के 65 पार के दावों पर कहा कि इस बार के विधानसभा चुनाव में 25 सीटें भी नहीं जीत पाएगी भारतीय जनता पार्टी . रघुवर सरकार हर फ्रंट पर फेल हो गयी है, भ्रष्टाचार चरम पर है, खुद पार्टी के नेता भी उंगली उठाने लगे हैं, ऐसे में भाजपा जो 65 पार का ख्वाब देख रहीे है, वह चुनाव में चूर होने वाला है.

प्लांनिग कमिशन की रिपोर्ट के मुताबिक झारखण्ड की गिनती “लीस्ट अट्रैक्टिव” स्टेट में

रघुवर सरकार के पांच साल के काम पर सवाल उठाते हुए आरपीएन सिंह ने कहा कि भाजपा के पांच साल के राज में झारखण्ड में निवेश का बुरा हाल हुआ है, प्लांनिग कमीशन की रिपोर्ट के मुताबिक झारखण्ड की गिनती लीस्ट अट्रेक्शन स्टेट में होने लगी है. जिस राज्य में व्यवसायी सबसे कम पैसा लगाना चाहते हैं,

हजारों की तादाद में राज्य के युवा बेरोज़गार हो रहे हैं. आज 21 वी सदी में भी इस राज्य में लोग भूख से मर रहे हैं, किसानों की आत्महत्या का सिलसिला लगातार जारी है. पारा टीचरों को वेतन के बदले लाठी खाने को मिल रही है. सीएनटी और एसपीटी एक्ट को खत्म करके सरकार आदिवासियों के अधिकार को भी खत्म करने के फिराक में है.

हिन्दुस्थान समाचार/सबा एक़बाल/शंकर

Leave a Comment

%d bloggers like this: