जेपी की रैली के बाद आज उमड़ी इतनी ज्यादा भीड़- आरके सिन्हा

पटना के गांधी मैदान में आयोजित NDA की संकल्प रैली को सभी लोगों ने सफल बताया है. बीजेपी के राज्यसभा सांसद और हिन्दुस्थान समाचार के अध्यक्ष आरके सिन्हा ने बताया कि 1975 के बाद इतनी बड़ी संख्या में लोग इकट्ठा हुए हैं.

उन्होंने कहा कि आज पटना में प्रधान मंत्री की संकल्प रैली अभूतपूर्व रूप से सफल रही. यह रैली 5 जून, 1974 को जेपी (लोकनायक जयप्रकाश नारायण) की संपूर्ण क्रॉंति रैली के बाद सबसे सफल और स्वत: स्फूर्त रैली मानी जायेगी. मैं 1962 के चीन युद्ध के बाद से गॉंधी मैदान पटना में आयोजित लगभग बड़ी रैलियों का साक्षी रहा हू्ँ.

उन्होंने कहा कि जिस प्रकार का जन समर्थन और उत्साह का माहौल मैंने आज देखा, वैसा तो शायद ही कभी देखा हो. खचाखच भरा गॉंधी मैदान, कंधे से कंधे टकराते हुए. झमाझम बरसात में झूमते लोग. पचास मिनट के प्रधानमंत्री के भाषण को जनता ने बारिश में भीगते हुए सुना और शायद ही कोई हिला भी हो. मोदी का शंखनाद महाभारत विजय का शंखनाद है.

पटना के गांधी मैदान में NDA की संकल्प रैली में जबरदस्त भीड़ उमड़ी. बारिश के बाद भी इस ऐतिहासिक रैली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सुनने के लिए भारी भीड़ मौजूद रही. बारिश में लोग भागने की जगह नाचते हुए नजर आए.

पटना के गांधी मैदान में एनडीए की संकल्प रैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विपक्ष पर जमकर निशाना साधा.

तकतरीबन 10 साल बाद पीएम मोदी, बिहार के सीएम नीतीश कुमार और केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान एक साथ किसी मंच पर आए. रैली में पहुंची भीड़ को देखकर ऐसा लग रहा था कि आने वाले चुनाव में विपक्षी दलों की परेशानियां बढ़ने वाली हैं.

लोकसभा चुनाव से पहले NDA ने संकल्प रैली के जरिए लोकसभा का बिगुल फूंक दिया है. इस रैली को देखकर मोदी विरोधी परेशान जरूर हो गए हैं. रैली की भीड़ यदि वोट में तब्दील हो गई तो ये कहना गलत ना होगा कि इस बार 2014 की तरह ही नतीजे आने वाले हैं.

%d bloggers like this: