देश के सभी नागरिकों को स्वच्छ पानी और हवा का अधिकार मिलना चाहिए: आरके सिन्हा

संसद के शीतकालीन सत्र के पहले दिन (सोमवार को) राज्यसभा में बीजेपी सांसद आरके सिन्हा ने देश में प्रदूषण के बढ़ते खतरनाक स्तर का मुद्दा उठाते हुए मांग की. सांसद सिन्हा ने कहा कि सभी लोगों को स्वच्छ हवा में सांस लेने और स्वच्छ पीने के पानी का अधिकार मिलना चाहिए.

सांसद सिन्हा जल्द ही इस मुद्दे को सदन में प्राइवेट मेम्बर बिल के तहत भी उठाने की बात कही. सांसद सिन्हा ने सोमवार को शून्यकाल के दौरान यह मुद्दा उठाते हुए नोटिस दिया था.

शून्यकाल स्थगित रहने के कारण सांसद सिन्हा ने संसद में मीडिया से बात करते हुए कहा कि जब देश में सभी को बोलने की स्वतंत्रता का अधिकार, सूचना अधिकार के अलावा अन्य कई चीजों के अधिकार प्राप्त है तो फिर सभी को स्वच्छ हवा में सांस लेने और पीने का स्वच्छ पानी क्यों नहीं मिल रहा है?

उन्होंने सवाल उठाया कि आखिर देश में विकास या अन्य आधुनिक गतिविधियां किसके लिए और किसलिए की जा रही हैं? उन्होंने कहा कि यह संभव नहीं है कि देश में स्वच्छ हवा और स्वच्छ पानी पीने के लिए आम लोग एयर प्यूरीफायर या मास्क आदि खरीद सकें.

सांसद सिन्हा ने सरकार से जल्द से जल्द ऐसे कदम उठाने की अपील की, जिससे सभी लोगों को स्वच्छ हवा और स्वच्छ पानी मुहैया हो सके. उन्होंने कहा कि इस मुद्दे को वे जल्द ही प्राइवेट मेम्बर बिल के तहत भी उठाएंगे.

गौरतलब है कि पिछले दिनों प्रदूषण खतरनाक स्तर तक चला गया था. दिल्ली के अलावा देश के कई हिस्सों में लोगों को सांस लेना भी काफी मुश्किल हो गया. सांसद सिन्हा इस मुद्दे को कल यानी मंगलवार को राज्यसभा में जरूर उठाने की बात कही.

Leave a Reply