ऋषि कपूर के अंतिम क्षणों का वीडियो लीक होने पर FWICE ने अस्पताल प्रशासन को भेजा नोटिस

1dfee78193f1f81c1fd5df8f4c373a361c16c7ad495b3ecde81e5a07fbdedd89_1
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

नई दिल्ली: दिग्गज एक्टर ऋषि कपूर का 30 अप्रैल, 2020 को 67 वर्ष की उम्र में कैंसर से निधन हो गया. उनके निधन ने हर किसी को झकझोर कर रख दिया. सोशल मीडिया पर  ऋषि कपूर का एक वीडियो वायरल हुआ है. ऋषि कपूर का ये वीडियो उनके निधन के पहले का है, जब उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था.

एफडब्ल्यूआईसीई (फेडरेशन ऑफ बेस्टर्न इंडिया सिने एम्प्लॉइज) ने इस वीडियो पर आपत्ति जताई है. फेडरेशन के अध्‍यक्ष अशोक पंडित ने इस तरह वीडियो वायरल होने को अधिकार का उल्लंघन बताया है.

अशोक पंडित ने सोशल मीडिया पर पत्र साझा कर लिखा-‘एचएन हॉस्पिटल के आईसीयू से वायरल हो रहे ऋषि कपूर जी के वीडियो पर एफडब्ल्यूआईसीई अपना विरोध दर्ज करवा रहा है. यह वीडियो अनैतिक है, बिना  इजाजत के लिया गया  है. एक महान और सम्मानजनक जीवन जीने वाले नायकों  के मौलिक अधिकारों का उल्लंघन है!’

एफडब्ल्यूआईसीई के भेजे गए नोटिस के बाद अस्पताल प्रशासन ने इस वीडियो एवं पूरे मामले की जांच के आदेश दिए हैं. अस्पताल प्रबंधन की ओर सोशल मीडिया पर  बयान जारी कर कहा गया कि वे एक्टर के वायरल वीडियो और उसे सकुलेट होने की जांच करेंगे. ऋषि कपूर का गुरुवार सुबह निधन हो गया था. 

ऋषि कपूर एक सदाबहार एक्टर थे. उन्होंने  बॉबी, कर्ज, कभी-कभी,अमर अकबर एंथनी, दीवाना, अग्निपथ, लव आज कल, दो दूनी चार, जब तक है जान, बेशरम, मुल्क, द बॉडी आदि फिल्मों में अपने शानदार एक्टिंग से दर्शकों के दिलों पर अपने एक्टिंग की अमिट छाप छोड़ी है. ऋषि कपूर का निधन मनोरंजन जगत की अपूरणीय क्षति है.

हिन्दुस्थान समाचार/ सुरभि सिन्हा