झारखंडः लालू पर मेहरबान हुए सीएम सोरेन, रिम्स में लालू के लिए 18 कमरे खाली कराए गए

Lalu Yadav in RIMS
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के साथ तेजस्वी यादव की अच्छी दोस्ती होने का फायदा अब लालू प्रसाद यादव को मिल रहा है. झारखंड में बीजेपी की सरकार जाते ही लालू यादव का रुतबा साफ देखने को मिलना है. चारा घोटाले में जेल काट रहे लालू यादव फिलहाल बीमारी के कारण रांची के रिम्स अस्पताल में भर्ती हैं. और अब वहां उनकी शानौ-शौकत में कोई कमी नहीं छोड़ी जा रही है.

रिम्स अस्पताल में लालू यादव का दबदबा इतना है कि अब उनके लिए अस्पताल के 18 कमरों को खाली कराया जा रहा है. बताया जा रहा है कि लालू को कोराना वायरस संक्रमण से बचाने के लिए यह वीवीआइपी व्यवस्था की गई है. बता दें कि झारखंड में RJD महागठबंधन सरकार में शामिल है.

सोरेन सरकार एक ओर लालू के लिए 18 कमरों का इंतजाम कर रही है. वहीं दूसरी ओर राज्य की गरीब जनता इलाज के लिए दर-दर की ठोकरें खा रहे हैं. रिम्स में बेड नहीं होने का हवाला देकर कोरोना संक्रमित मरीजों को दूसरे अस्पतालों में शिफ्ट करवाया जा रहा है. ऐसे में सरकार जनता के लिए नहीं बल्कि लालू यादव के बारे में ज्यादा सोच रही है.

झारखंड के सरकारी अस्पतालों में बेड की कमी हो गई है. इस दशा में अस्पताल में कोरोना संक्रमित फर्श पर बिस्तर बिछा कर अपना इलाज करा रहे हैं. वहीं ऐसे में यदि लालू यादव गठबंधन सरकार का हिस्सा नहीं होते, तो एक साधारण कैदी के तरह अपना इलाज करा रहे होते. लेकिन हेमंत की कृपा के कारण अब उनके लिए 18 कमरे बेवजह से खाली कराए जा रहे हैं.

बीजेपी विधायक दल के नेता और पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी ने इस मामले में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को चिट्ठी भी लिखी है. मरांडी ने चिट्ठी लिखने के बाद उस चिट्ठी के साथ मुख्यमंत्री कार्यालय को टैग करते हुए ट्वीट भी किया कि रिम्स में कमरों को बेवजह बंद करके रखे जाने की सूचना प्राप्त हो रही है. कोरोना जैसे नाजुक मौके पर इस प्रकार की मनमानी और संवेदनहीनता समझ से परे है. मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन जी से हमने इस पर तत्काल संज्ञान लेने का आग्रह किया है.