बैन चायनीज ऐप्स को इन एप्स से करें रिप्लेस

नई दिल्ली. मोदी सरकार ने चीन के 59 एप्स को बैन कर चीन को एक बड़ा झटका दिया है. क्योंकि सरकार ने चीन के ऐसे एप्स को बैन किया है जो कि भारत में सबसे ज्यादा कमाई करते थे. एक बड़े पैमाने पर भारत में चीनी एप्स का इस्तेमाल किया जाता है. ऐसे में अगर आप चीनी एप्स के बैन होने से थोड़ा परेशान हैं और इन एप के विकल्प की तलाश कर रहे हैं, तो आज हम आपको यहां कुछ चुनिंदा मोबाइल एप के बारे में बताएंगे.आइए डालते हैं इन मोबाइल एप पर एक नजर.

Chinese appNon- Chinese app
TiktokMitron app
Clash of kingsFortline
ShareitFiles by google
BeautyPlusIndian Selfie Camera
CamScannerAdobe scan app
UC BrowserChrome
HeloShareChat
Mi Video Call-Xiaomi Skype

टिक-टॉक – आपको बता दें कि भारत में इस समय सबसे ज्यादा लोकप्रिय एप टिक-टॉक है. ये एप देश में सभी तबके के लोगों के स्मार्टफोन में डाउनलोड मिल जाएगी. यहां तक कि कई बड़ी हस्तियों ने भी इस एप को डाउनलोड किया हुआ है. एक रिपोर्ट के मुताबिक पूरी दुनिया में टिक-टॉक एप के 39 यूजर्स भारत से हैं और इनकी उम्र 16-24 साल के बीच है. इसकी जगह आप Mitron app का इस्तेमाल कर सकते हैं.

UC Browser: जैसा कि इसके नाम साफ है यह एक मोबाइल ब्राउजर है. इसे UCWeb ने बनाया है. यह अलीबाबा की कंपनी है. यह Google Chrome के बाद भारत के सबसे लोकप्रिय ब्राउजर में से एक है. इसकी जगह Chrome आप को यूज करें.

कैमस्कैनर – कैमस्कैनर की मदद से यूजर किसी डॉक्यूमेंट को आसानी से स्कैन कर किसी भी वेबसाइट पर अपलोड कर सकता है. यह एप भी भारत में काफी ज्यादा लोकप्रिय है. सीसी इंटेलिजेंस ने इस एप को विकसित किया है. जिसे अब आप बैन कर दिया गया है. जिसकी जगह आप एडोब स्कैनर एप का इस्तेमाल कर सकते हैं.

 Helo -यह एक सोशल नेटवर्किंग ऐप है जिसे TyteDance ने बनाया है. भारत मे इसके 40 लाख यूजर्स हैं. यह ऐप कई भारतीय भाषाओं को सपोर्ट करता है. ऐप की मदद से लोग अपनी भाषा में अपने रिश्तेदारों और दोस्तो से बात कर सकते हैं. इस एप की जगह आप ShareChat एप का इस्तेमाल कर सकते हैं.

शेयरइट –भारत में शेयरइट लोकप्रिय एप मानी जाती है. ये एक तरह की फोटो, वीडियो, फाइल या किसी तरह की कोई मोबाइल एप्लीकेशन शेयर करने के काम आती है. इस एप के जरिए दो मोबाइल फोन में किसी भी फाइल, चाहे वो कितनी लंबी क्यों ना हो को शेयर किया जा सकता है. इसके लिए दोनों मोबाइल में इस एप का होना जरूरी है. साल 2018 में ये एप सबसे ज्यादा डाउनलोड की गई थी. इस एप की जगह आप Files by google एप का इस्तेमाल कर सकते हैं.

Leave a Reply

%d bloggers like this: