नहीं चलेगी बैंकों की दादागिरी,RBI ने कड़े किए ये नियम
  • बैंकों को आरबीआई के सभी दिशा निर्देशों का पालन करवा होगा
  • बकाया वसूलने के लिए बाउंसर्स को भेजना कतई नियम संगत नहीं है

नई दिल्ली. बैंक कई बार लोन की रकम को वसूलने के लिए ग्राहकों के पास बाउंसर्स या फिर पहलवानों को भेजते हैं.ताकि वो लोन की रकम को वसूल सकें. लेकिन बैंकों का ऐसा करना पूरी तरीके से गलत है.इस बात की ऐलान सोमवार को लोकसभा में वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर ने किया है.

अनुराग ने दी ये जानकारी-

अनुराग ठाकुर ने लोकसभा में पूछे गए एक प्रश्न के जबाव में बताया कि किसी भी बैंक को लोन की जबरदस्ती वसूली के लिए बाउंसर्स नियुक्त करने का अधिकार नहीं है. इसी के साथ ठाकुर ने ये भी कहा है कि भारतीय रिजर्व बैंक की तरफ से ये साफ-साफ कहा है कि उचित पुलिस वेरिफिकेशन और जरूरी औपचारिकताओं के पूरा करने के बाद ही रिकरवी एजेंटों का इस्तेमाल किया जा सकता है.

बैंक नहीं कर सकते ये काम-

बैंकों को ऐसे रिकवरी एजेंटों को बुलाने के लिए और बकाया वसूलने के लिए बैंकों को अपने बोर्ड के सदस्यों से मंजूरी लेनी होगी.अनुराग ने कहा कि बैंक इस काम के लिए भारी भरकम कद काछी वाले बाउंसर तो बिलकुल नहीं रक सकते हैं.

आरबीआई ने जारी किए हैं ये नियम-

बैंकों को आरबीआई के सभी दिशा निर्देशों का पालन करवा होगा और बकाया वसूलने के लिए बाउंसर्स को भेजना कतई नियम संगत नहीं है.इसी के साथ अनुराग का यह भी कहना है कि बैंक वसूली के लिए किसी भी तरह से ग्राहक को डर-धमका नहीं सकते हैं,वक्त बेवकक्त ग्राहक को फोन नहीं कर सकते हैं और दबाव किसी तरह का दबाव नही बना सकते हैं.ये नियमों के खिलाफ माना जाएगा.

आरबीआई के पास आ रही हैं शिकायतें-

अनुराग ठाकुर ने बताया कि आरबीआई के पास लगातार इसे लेकर शिकायतें आ रही हैं.इन्हें हम काफी गंभीरता से ले रहे हैं. साथ ही इनकी जांच भी की जा रही है.ऐसा करने वालों के साथ नरमी नहीं बरती जाएगी. आरबीआई ऐसे बैंकों के खिलाफ शख्त से शख्त कार्रवाई की जाएगी.

Trending Tags – Reserve Bank of India | Business News | Economy News | National News | Aaj ka Samachar

%d bloggers like this: