अगर हमने 20 जवान खोए, तो चीन के दोगुने मारे- रविशंकर

नई दिल्ली. भारत सरकार द्वारा चाइनीज ऐप्स (Chinese Apps) पर प्रतिबंध लगाने के बाद केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद (Ravi Shankar Prasad) ने इसे डिजिटल हमला बताया है. केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने आज पश्चिम बंगाल (West Bengal) के लोगों के लिए एक डिजीटल रैली (Digital Ralley) को संबोधित किया.

रविशंकर प्रसाद ने कहा, हम शांति और समस्याओं को बातचीत के जरिए हल करने में यकीन रखते हैं लेकिन अगर कोई भारत पर बुरी नजर डालता है तो हम मुंह तोड़ जवाब देंगे.

अगर हमारे 20 जवानों ने अपनी जान का बलिदान दिया तो चीन (China) में ये संख्या दोगुनी है. भारत डिजिटल स्ट्राइक (Digital Strike) कर सकता है.’आप सभी ने देखा होगा कि उन्होंने कोई संख्या नहीं बताई.

हाल फिलहाल में आतंकवादी हमलों का भारत द्वारा जवाब दिए जाने को याद करते हुए प्रसाद ने कहा, ‘आप सभी को याद होगा कि उरी और पुलवामा (Pulwama Attack) के बाद हमने कैसे बदला लिया.

रविशंकर ने कहा, ‘अब आप बस दो ‘C’ के बारे में सुन रहे होंगे- कोरोनावायर और चीन. हम शांति और बातचीत करके समस्या सुलझाने में विश्वास रखते हैं लेकिन किसी की नजर होगी तो हम उसका सही जवाब भी देंगे.

केंद्रीय इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि भारत ने देशवासियों के डेटा की सुरक्षा करने के लिए डिजिटल हमला किया. उन्होंने कहा, ‘भारत की सुरक्षा और संप्रभुता के लिए, देशवासियों की डिजिटल सुरक्षा और गोपनीयता के लिए हमने 59 एप्स पर प्रतिबंध लगा दिया है, जिनमें टिकटॉक भी शामिल है.

देश में लंबे समय से चीन के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया जा रहा था. वहीं चीनी मोबाइल ऐप्स पर बैन लगाने के बाद चीन के माउथपीस ग्लोबल टाईम्स ने भारत को धमकी देते हुए इसे डोकलाम मुद्दे से जोड़ा और कहा था कि भारत को डोकलाम से भी ज्यादा नुकसान झेलना पड़ेगा.

केंद्र सरकार ने सोमवार को देश में 59 चीनी मोबाइल ऐप्स पर रोक लगा दी थी, जिसमें Tik Tok, UC Browser, ShareIt, Helo और Likee जैसे बहुत सारे पॉपुलर ऐप्स शामिल थे. सरकार की ओर से कहा गया था कि देश में डेटा और प्राइवेसी सेफ्टी को देखते हुए ये कदम उठाया गया है

Leave a Reply

%d bloggers like this: