रामपुर – IPS अजयपाल शर्मा ने बलात्कारी को दौड़ाकर मारी गोली, सोशल मीडिया पर हो रही सराहना

रामपुर

पुलिस अधीक्षक अजय पाल शर्मा ने 6 साल की मासूम के हत्यारे और बलात्कारी नाजिल को मुठभेड़ में गोली मारकर गिरफ्तार कर लिया है, रामपुर के कप्तान के इस कदम से सोशल मीडिया पर एनकाउन्टर स्पेशलिस्ट कहे जाने वाले अजयपाल शर्मा के इस कदम की खूब सराहना हो रही है. सोशल मीडिया पर कहा जा रहा है कि अजयपाल शर्मा ने बलात्कारी को दौड़ाकर गोली मारी है.

सोशल मीडिया पर लोग उन्हे भगवान कह रहे हैं तो कोई उनको सिंघम कह रहा है, तो कोई उनके इस कदम की सराहना करते नही थक रहा है. दरअसल यूपी के तेजतर्रार IPS अजयपाल शर्मा एनकाउन्टर स्पेशलिस्ट हैं और शामली में रहकर भी कई अपराधियों का एनकाउन्टर कर चुके हैं.

रामपुर एस पी अजयपाल शर्मा जी ने 6 वर्ष की बच्ची के बलात्कारी नाज़िल को 3 गोलियों मार 72 हूरों की ओर किया रवाना …. #up_police #ajaypal #rampur #ips #supercop #hcv सरकार के आदेश की जरूरत नई है ,,, The Real tiger in U.P

Rajat Gautam यांनी वर पोस्ट केले शनिवार, २२ जून, २०१९

अजयपाल शर्मा योगी के चहेते अफसरों में से एक भी माने जाते हैं. शामली में बदमाशों को गले में तख्ती पहन कर सरेन्डर को मजबूर करने वाले IPS अजयपाल फिर से सुर्खियों में हैं. इस बार उनके सुर्खियों में रहने का कारण रामपुर में एक बलात्कारी को गोली मारना है.

रामपुर के कप्तान ने रामपुर की कमान संभालते ही अपने इरादे स्पष्ट कर दिए हैं. अब लोग आईपीएस अजयपाल से दूसरे अधिकारियों को सीख लेने की हिदायत दे रहे हैं. सीएम योगी के सत्ता संभालने के बाद से अभी तक 3000 से ज्यादा एनकाउंटर हो चुके हैं. जिसमें 80 अपराधी मारे गए हैं. और बाकी घायल हुए हैं.

क्या है मामला-

6 साल की बच्ची की हत्या और बलात्कार के आरोप में फऱार चल रहे अपराधी नाजिल की सिविल लाइंन्स इलाके में पुलिस से मुठभेड़ हो गई. पुलिस को देखते ही अपराधी ने पुलिस पर फायर करना शुरू कर दिया. जवाब में पुलिस ने अपराधी को तीन गोलियां मारी. अपराधी नाजिल अभी अस्पताल में भर्ती है.

पुलिस कप्तान अजयपाल शर्मा ने बताया कि लगभग 45 दिन पहले एक बच्ची गायब हुई थी. शनिवार को उसका शव मिला जो पूरी तरह गल चुका था. परिजनों ने बच्ची के साथ दुष्कर्म और हत्या होने का मुकदमा दर्ज कराया था. उसी मामले में पुलिस आरोपी की तलाश में थी. मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने आरोपी को घेर लिया. पुलिस से घिरा जानकर आरोपी ने फायर की थी. जिसका जवाब दिया गया. यह मुकदमा 7 मई को दर्ज कराया गया था.

घायल बलात्कारी को जिला अस्पताल के बाद हायर सेन्टर रेफर कर दिया गया है. जहां उसका इलाज किया जा रहा है. वहीं सोशल मीडिया पर अजयपाल को सुपरमैन कहा जा रहा है. कुछ भी हो यूपी पुलिस की ये मुहिम अपराधियों पर लगाम लगाने में मदद करेगी.

मधुकर बाजपेयी / Madhukar Vajpayee

Leave a Reply