JET AIRWAYS के बाद INDIGO में मचा हड़कंप, संस्थापकों के बीच छिड़ी जंग
  • इंडिगो एयरलाइन के दोनों संस्थापकों में खींचतान चल रही हैं. इन खबरों के चलते ही गुरुवार को इंटरग्लोब एविएशन के शेयर 9 फीसदी तक टूट गए
  • मीडिया रिपोर्टस की माने तो दोनों के बीच विवाद इतना बढ़ चुका है कि कंपनी के दोनों संस्थापकों कोर्ट का रूख कर लिया है

नई दिल्ली.देश के एविएशन सेक्टर की मुश्किलें हैं कि खत्म होने का नाम ही नहीं ले रही हैं.बल्कि लगातार बढ़ती ही चली जा रही है. पहले एयर इंडिया की हालत खराब होना, फिर जेट का बर्बाद होना और हजारों कर्मचारियों का बेरोजोगार हो जाना. अब खबरें आ रही हैं की इंडिगो एयरलाइन में सब ठीक नहीं चल रहा है.

देश के एविएशन सेक्टर पर खतरा-

खबरे आ रही हैं कि इंडिगो एयरलाइन के दोनों संस्थापकों में खींचतान चल रही हैं. इन खबरों के चलते ही गुरुवार को इंटरग्लोब एविएशन के शेयर 9 फीसदी तक टूट गए, इंटरग्लोब एविएशन इंडिगो का परिचालन करती है.

मीडिया रिपोर्टस की माने तो दोनों के बीच विवाद इतना बढ़ चुका है कि कंपनी के दोनों संस्थापकों कोर्ट का रूख कर लिया है. इस खबर ने विमानन सेक्टर और निवेशकों की बेचैनी बढ़ा दी है.

राकेश गंगवाल के पास है इतनी हिस्सेदारी-

भारत की सबसे सफल एयरलाइंस और घरेलू उड़ानों में करीब 46 फीसदी की भारी हिस्सेदारी रखने वाली इंडिगो के मालिकान राकेश गंगवाल और राहुल भाटिया के बीच मतभेद की खबर कारोबार नहीं बल्कि कुछ और है.

जानकारों का कहना है कि इंडिगो के हिस्सेदारों का विवाद कुछ अन्य मामलों से जुड़ा है और फिलहाल उसमें किसी आर्थिक संकट की आहट नहीं है. लेकिन वे यह भी मानते हैं कि अगर यह विवाद बढ़ा तो इंडिगो बतौर एयरलाइंस भी इस समस्या से जूझेगी, इससे इन्कार नहीं किया जा सकता.

2006 में शुरू हुई थी इंडिगो-

राकेश गंगवाल और राहुल भाटिया ने 2006 में इंडिगो की स्थापना की थी. दोनों ने मिलकर ही इंडिगों को देश की नंबर-1 विमान कंपनी बना दिया है.मौजूदा समय में राकेश गंगवाल के पास इंडिगो के 38 और राहुल भाटिया के पास 37 फीसदी शेयर हैं.

अमेरिकी नागरिकता रखने वाले राकेश गंगवाल दुनिया में विमानन क्षेत्र के बड़े जानकारों में एक माने जाते हैं. वे एयर फ्रांस और अमेरिकी एयरवेज में उच्च पदों पर रह चुके हैं.

दूसरी तरफ, राहुल भाटिया भारत में रहते हैं और यहीं से कंपनी का संचालन देखते हैं. उन्हें भारतीय विमानन क्षेत्र के नियम-कानूनों और मिजाज का अच्छा जानकार माना जाता है. इन दोनों के बीच ताजा विवाद की जो वजह बताई जा रही है, वह मुख्य रूप से कंपनी पर नियंत्रण स्थापित करने और उसकी भविष्य की योजनाओं को लेकर है.

Trending tags – Business news | Indigo airline | Jet airways | Economy News | News Today

%d bloggers like this: