अयोध्याः 2022 तक बनकर तैयार हो जाएगा राम मंदिर

लॉकडाउन में छूट मिलते ही अयोध्या में राम मंदिर निर्माण का कार्य बड़ी तेजी के साथ चल रहा है. हालांकि इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा पालन किया जा रहा है. रामलला गर्भगृह के चारो ओर समतलीकरण का काम पूरा हो चुका है. और कोशिश है कि साल 2022 तक भव्य मंदिर बनकर तैयार हो जाए.

श्रीराम जन्मभूमि न्यास के वरिष्ठ सदस्य महंत कमलनयन दास ने बताया कि 2022 तक भव्य मंदिर बनकर तैयार हो जाएगा. उन्होंने कहा कि राम मंदिर की आधारशिला रखने के लिए पीएम मोदी को बुलाया जाएगा. उन्होंने बताया कि जल्द ही आधारशिला रखने का कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा.

उन्होंने कहा कि भगवान रामलला दशकों से तिरपाल के नीचे रह रहे थे, हम लोग उन्हें एक दिव्य भवन देना चाहते थे. और अब इस कार्य में अधिक समय नहीं लगाया जाएगा. उन्होंने कहा कि मंदिर निर्माण के लिए निर्धारित ट्रस्ट के निर्देशानुसार ही निर्माण कार्य को आगे बढ़ाया जा रहा है.

रामनवमी के दिन भव्य भवन में होंगे रामलला

उन्होंने कहा कि हमारी योजना है कि 2022 में राम नवमी के दिन रामलला की आरती उनके भव्य और दिव्य मंदिर में ही की जाए. उन्होंने कहा कि राम मंदिर के लिए राम भक्त दिलखोल कर दान दे रहे हैं. और प्रभु के भव्य भवन निर्माण में पैसों की किसी तरह की कोई कमी नहीं आएगी. बता दें कि मंदिर निर्माण से संबंधित पूरी रिपोर्ट तैयार करके मंदिर निर्माण समिति के अध्यक्ष नृपेंद्र मिश्रा को सौंपनी है.

महंत कमलनयन दास ने बताया कि मंदिर का वही प्रारूप होगा जो आंदोलन के वक्त पूरी दुनिया में दिखाया जा चुका है. उन्होंने कहा कि राम भक्तों के घरों में जिस प्रारूप की तस्वीर है, उसी प्रारूप के अनुसार भव्य मंदिर निर्माण कराया जाएगा. साथ ही मंदिर में शिलाओं और पत्थरों का इस्तेमाल किया जाएगा.

उन्होंने कहा कि पत्थरों को तराशने के लिए तकनीक का इस्तेमाल किया जा सकता है. उन्होंने कहा कि ये एक संयोग है कि मंदिर निर्माण के वक्त केंद्र और राज्य दोनों ही जगह बीजेपी की सरकार है.

Leave a Reply

%d bloggers like this: