अयोध्याः राम मंदिर निर्माण का कार्य शुरू, कई मूर्तियां और शिवलिंग मिला

Ram Janmabhoomi
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

अयोध्या में राम मंदिर निर्माण का कार्य जारी है. मंदिर निर्माण के लिए जमीन का समतलीकरण किया जा रहा है. राम जन्मभूमि परिसर में चल रहे समतलीकरण के दौरान कई पुरातत्विक मुर्तियां मिट्टी के नीचे से निकली हैं. इन मूर्तियों में एक शिवलिंग भी है. जिसकी ऊंचाई 4 फुट की बताई जा रही है.

इसके अलावा किसी मंदिर के खंभे के अवशेष भी मिले हैं. राम मंदिर ट्रस्ट का दावा है कि मंदिर परिसर में खुदाई के दौरान भारी संख्या में देवी-देवताओं की खंडित मूर्तियों के अलावा 7 ब्लैक टच स्टोन के स्तम्भ, 6 रेड सैंडस्टोन के स्तम्भ सहित 5 फीट का एक शिवलिंग भी मिला है.

श्रीरामजन्मभूमि ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने बताया कि अयोध्या में भावी मंदिर के निर्माण के लिए भूमि के समतलीकरण एवं पुराने गैंग-वे को हटाने का काम जारी है. रामजन्मभूमि परिसर के पुराने गर्भगृह स्थल के समतलीकरण का कार्य 11 मई से चल रहा है. इस कार्य में सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा ध्यान रखा जा रहा है.

इस कार्य में तीन जेसीबी, एक क्रेन, दो ट्रैक्टर व दस मजदूर लगे हैं. जेसीबी के जरिए गर्भगृह के चारों तरफ के मलबे को हटाया जा रहा है. बता दें कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद से केंद्र सरकार की ओर से मंदिर निर्माण के लिए एक ट्रस्ट बनाया गया है. जिसकी देखरेख में ही मंदिर का निर्माण होना है.

वहीं इस घटना पर हिन्दूमहासभा के वकील विष्णु जैन ने मुस्लिम समाज पर जमकर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट में बहस के दौरान हम पर मुस्लिम पक्ष ने हिंदू तालिबान का आरोप लगाया था और कहा था कि वहां पर मंदिर के कोई अवशेष नहीं है. पुरातात्विक मूर्तियां का मिलना यह उन आरोपों का जवाब है, जो हम सुप्रीम कोर्ट में बहस करते चले आ रहे थे.