भारत-चीन सीमा विवाद पर आज संसद में बयान देंगे रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह

Rajnath SIngh
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

नई दिल्ली. भारत और चीन (India And China) के बीच LAC पर जारी गतिरोध के बीच संसद में आज का दिन बहुत अहम है. आज यानी मंगलवार को रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा के पास भारत और चीनी सैनिकों के बीच जारी गतिरोध को लेकर संसद में एक बयान दे सकते हैं.

राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) दोपहर 3 बजे संसद (Parliament) को बताएंगे कि आखिरकार एलएसी (LAC) पर वर्तमान हालात क्या हैं. विपक्ष द्वारा इस मुद्दे पर चर्चा कराये जाने की मांग के बीच ये बयान काफी महत्व रखता है. विपक्ष लंबे वक्त से चीन को लेकर सरकार पर हमलावर हो रहा है और बार-बार सरकार से जवाब मांगता रहा है. ऐसे में आज रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह लोकसभा में भाषण देंगे.

हाल में रूस (Russia) की राजधानी मॉस्को में शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) की बैठक से इतर ये मुद्दा उठाया गया था. रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और उनके चीनी समकक्ष के बीच तकरीबन 2 घंटे तक बैठक चली. बैठक में तय हुआ कि दोनों देश (भारत और चीन) आपसी बातचीत से सीमा विवाद का मुद्दा सुलझाएंगे. दोनों देशों के बीच हर स्तर पर वार्ता हो रही है, मगर चीनी सेना बार-बार घुसपैठ की कोशिश करती है, जिसे भारतीय सेना नाकाम कर देती है.

सोमवार से शुरू हुए संसद के मानसून सत्र (Monsoon Session) में विपक्ष भारत-चीन मुद्दे, कोविड की स्थिति, आर्थिक शिथिलता और बेरोजगारी जैसे मुद्दों पर सरकार को घेरने का कोई मौका छोड़ने के पक्ष में नहीं है. पहले दिन भी सरकार को विपक्ष ने कई मुद्दों पर घेरा.

बता दें कि संसद के मॉनसून सत्र का मंगलवार को दूसरा दिन है. कोरोना महामारी के कारण इस बार संसद के दोनों सदनों की कार्यवाही आधे-आधे दिन के लिए हो रही है. सरकार ने मानसून सत्र के पहले दिन राज्यसभा में पांच विधेयक पेश किए.