पूर्व नौसेना अधिकारी से बोले रक्षा मंत्री राजनाथ, ऐसे हमले बिल्कुल बर्दाश्त नहीं

madan-sharma-rajnath-singh
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

मुंबई में मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की आलोचना वाले कार्टून को व्हाट्सएप पर फॉरवर्ड करने को लेकर पूर्व नौसेना अधिकारी की पिटाई का मामला अब तूल पकड़ता जा रहा है. रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने शनिवार को नौसेना के पूर्व अधिकारी मदन शर्मा से बात करके उनके स्वास्थ्य के बारे में पूछा और पूरे घटना की जानकारी ली. उसके बाद उन्होंने अपने ट्विटर हैंडल पर लिखा, ‘नौसेना के पूर्व अधिकारी मदन शर्मा से बात कर उनके स्वास्थ्य के बारे में जाना, मुंबई में जिन पर कुछ गुंडों ने हमला किया था. पूर्व सैनिक पर इस तरह का हमला अत्यंत खेदजनक है और इसे स्वीकार नहीं किया जाएगा. मैं उनके जल्द स्वस्थ होने की कामना करता हूं.’

पूर्व नौसेना अधिकारी मदन शर्मा पर शुक्रवार को शिवसैनिकों ने जानलेवा हमला करके गंभीर रूप से घायल कर दिया था. मदन शर्मा का कहना था कि व्हाट्सएप पर एक कार्टून को शेयर करने से शिवसेना ग्रुप के लोगों को आपत्ति हुई थी. इसी बात पर 10-15 लोग आये और मारने लगे. इस मामले में पुलिस ने 6 लोगों को शुक्रवार की शाम गिरफ्तार किया था, जिनमें शिवसेना के कार्यकर्ता भी शामिल थे. इन सभी को शनिवार दोपहर में जमानत मिल गई. इसके बाद पीड़ित पूर्व नौसेना अधिकारी की बेटी ने भाजपा नेताओं के साथ मुंबई के अतिरिक्त पुलिस आयुक्त के कार्यालय के बाहर विरोध-प्रदर्शन किया. इस दौरान प्रदर्शन कर रहे लोगों ने गैर-जमानती अपराधों के तहत आरोपित के खिलाफ मामला दर्ज करने की मांग की. प्रदर्शन में शामिल मदन शर्मा की बेटी शीला शर्मा ने कहा कि मैं महाराष्ट्र सरकार को कुछ नहीं कहना चाहती हूं, क्योंकि मुझे उन पर भरोसा नहीं है.

सेवानिवृत्त नौसेना अधिकारी मदन शर्मा ने शनिवार को कहा कि ‘हमारे देश में, हर व्यक्ति को अपनी अभिव्यक्ति जाहिर करने की स्वतंत्रता है और व्हाट्सएप लोगों से जुड़े रहने और जानकारी साझा करने का एक माध्यम है. सरकार को संदेश के स्रोत की पहचान करने के लिए उपाय करना चाहिए, जहां से यह उत्पन्न होता है.’

हिन्दुस्थान समाचार/सुनीत