Rajasthan Political Drama: कुछ ही देर में राज्यपाल से मिलेंगे मुख्यमंत्री गहलोत, हो सकती है विधायकों की परेड

Rajasthan Political Drama
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

राजस्थान हाई कोर्ट से विधानसभा स्पीकर के नोटिस पर स्टे लगाने के बाद से सियासी हलचल बढ़ गई है. कोर्ट ने जहां सचिन पायलट खेमे को राहत दी. अदालत ने स्पीकर के नोटिस पर फिलहाल के लिए स्टे लगाते हुए यथास्थिति को बरकरार रखने के निर्देश दिए हैं. मतलब स्पीकर अब विधायकों को अयोग्य करार नहीं दे पाएंगे. अदालत के इस निर्णय ने अशोक गहलोत की मुसीबत को बढ़ा दिया है.

जानकारी के मुताबिक गहलोत अब आर-पार की लड़ाई के मूड में हैं. उन्होंने इसके लिए राज्यपाल कलराज मिश्र से मुलाकात का वक्त भी मांगा है. राजनीतिक गलियारों में चर्चा है कि वे राज्यपाल के सामने राजभवन में विधायकों की परेड करा सकते हैं. ताकि विश्वासमत साबित करने का झंझट खत्म हो जाए. हालांकि पार्टी या सरकार की ओर से इस पर अभी तक कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है.

पायलट-गहलोत करेंगे प्रेस कांफ्रेंस

अदालत से निर्णय आने के बाद सचिन पायलट और अशोक गहलोत प्रेस कांफ्रेंस करने वाले हैं. जिसमें वे एक दूसरे पर निशाना साध सकते हैं. गहलोत अभी तक पायलट को बीजेपी के हाथों का मोहरा बता रहे थे. उन्होंने पायलट पर बीजेपी के इशारों पर सरकार गिराने की कोशिश करने का आरोप लगाया था.

वहीं पायलट ने साफ कहा है कि वे बीजेपी में नहीं जाएंगे. आज (शुक्रवार) की प्रेस कांफ्रेंस में सचिन पायलट गहलोत के सभी आरोपों का जवाब दे सकते हैं. दूसरी तरफ अशोक गहलोत राज्यपाल से मुलाकात के बाद पत्रकारों से मिलेंगे. और उनके सवालों का जवाब देंगे. अभी तक गहलोत फिलहाल अपनी सरकार बचाने को लेकर आश्वस्त दिखाई दे रहे हैं.