राहुल बोले, फिलहाल युवाओं के लिए रोजगार की कोई उम्मीद नहीं

rahul gandhi
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने खस्ताहाल अर्थव्यवस्था और रोजगार के मुद्दे पर केंद्र की मोदी सरकार को घेरा है. उन्होंने कहा कि कोरोना संकट को लेकर लगाए गए लॉकडाउन से रोजगार-धंधे ध्वस्त हो गए हैं. वहीं हाल-फिलहाल में तो युवाओं के लिए रोजगार सृजन और सुरक्षित भविष्य की कोई उम्मीद नहीं है.

राहुल गांधी ने भारतीय अर्थव्यवस्था और नौकरियों के मोर्चे पर मोदी सरकार को विफल बताते हुए ट्वीट किया. उन्होंने अपने ट्वीट में यूनिलीवर के ग्लोबल सीईओ एलन जोप के बयान की एक रिपोर्ट को शेयर करते हुए लिखा, “कोविड मामलों में लगातार होती बढ़ोत्तरी के चलते भारत के सबसे बड़े इम्पलॉयरों में से एक ‘इंतजार करें और देखें क्या होता है’ वाले मोड में हैं. इसलिए हाल-फिलहाल युवाओं के लिए रोजगार सृजन और सुरक्षित भविष्य की कोई उम्मीद नहीं है.

वहीं राहुल ने युवाओं के लिए रोजगार के अवसर नहीं होने को भी मोदी सरकार के अचानक और बिना किसी योजना के लगाए गये लॉकडाउन का नतीजा बताया. उन्होंने कहा कि एक तो पहले से ही आर्थिक स्थिति डांवाडोल थी उस पर लॉकडाउन ने अनिश्चितता से घिरी अर्थव्यवस्था को तेजी से नीचे ले जाने की प्रक्रिया को तेज कर दिया.

इससे पहले राहुल गांधी ने शनिवार सुबह भी ट्वीट कर देश में कोरोना वायरस के बढ़ते मामले, आर्थिक स्थिति और बेरोजगारी पर सरकार पर निशाना साधा था.

हिन्दुस्थान समाचार/आकाश