बलिया में दो हत्याओं से पुलिस की साख पर उठे सवाल

ballia-firing
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp
  • पहली घटना शहर में हुई तो दुर्जनपुर में सबके सामने चली गोलियां

पुलिस की नाक के नीचे हुई लगातार दो हत्याओं से जिला सहम उठा है. वहीं पुलिस की साख पर भी प्रश्नचिन्ह लगने लगे हैं.

कोटे की दुकान के आवंटन को लेकर रेवती थाना क्षेत्र के दुर्जनपुर में गुरूवार को पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों तथा भारी फोर्स की मौजूदगी में हुई वारदात से जिला ही नहीं, पूरा प्रदेश हिल गया है. ताबड़तोड़ फायरिंग होती रही और पुलिस मूकदर्शक बनी रही. आखिर लोग अपनी सुरक्षा के लिए किस पर भरोसा करें. जबकि पुलिस ने समय रहते दुर्जनपुर में कड़ा एक्शन लिया होता तो शायद इतनी बड़ी वारदात को रोका जा सकता था. यही वजह है कि मुख्यमंत्री ने फौरन इसका संज्ञान लेते हुए लापरवाह अधिकारियों पर कार्रवाई के निर्देश दिए. अभी इस मामले में कई और नपेंगे.

उधर, शहर कोतवाली थाना क्षेत्र के आनंद नगर मोहल्ले में मंगलवार की रात खाना खाकर घर से दुकान पर सोने जा रहे विकलांग युवक अजित कुमार गुप्ता को मोटरसाइकिल सवार अज्ञात बदमाशों ने जिस दुस्साहसिक ढंग से गोली मारी, वह भी पुलिस के इकबाल पर सवाल खड़े करता है. एक के बाद एक हो रही वारदातों से प्रदेश सरकार विपक्षी पार्टियों के निशाने पर आ रही है. जबकि दोनों ही सनसनीखेज मामलों में मुख्य आरोपित पुलिस की गिरफ्त से दूर हैं.