पंजाब में रेल रोकों आंदोलन लम्बा चलेगा , रेल लाईनों पर पक्के मोर्चे जारी

26
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

चंडीगढ़ , 26 सितम्बर ( हि स ): पंजाब के तीन केंद्रीय कृषि बिलों के विरुद्ध किये जा रहा रेल रोकों आंदोलन लम्बा खिंच सकता है. वैसे रेल रोको आंदोलन आज , 26 सितम्बर को समाप्त होना था और रेलवे ने भी आज तक राज्य में 14 जोड़ी विशेष रेलों को स्थगित किया था.

परन्तु अब किसान मजदूर संघर्ष कमेटी ने रेल रोको आंदोलन को 29 सितम्बर तक बढ़ा दिया है. जबकि प्रथम अक्टूबर से पहले से ही अनिश्चित काल के लिए रेल चक्का जाम करने की घोषणा 31 संगठनों द्वारा की हुई है.

किसान मजदूर संघर्ष कमेटी के अध्यक्ष सतनाम सिंह पन्नू ने कहा कि रेल रोको आंदोलन को 29 सितम्बर तक बढ़ाया जा रहा है और आंदोलनकारी अमृतसर -दिल्ली रेल मार्ग और फ़िरोज़पुर जंक्शन पर अपने पक्के मोर्चे जारी रखेंगे.

दूसरी तरफ 31 संगठनों पर आधारित किसानों के संयुक्त मोर्चे में से जम्हूरी किसान सभा के प्रांतीय महासचिव कुलवंत सिंह संधू ने बताया कि प्रथम अक्टूबर से अनिश्चित काल के लिए रेलों का चक्का जाम किया जायेगा और जब तक केंद्र कृषि बिलों को वापिस नहीं लेती , आंदोलन जारी रहेगा.

31 संगठनो वाली मोर्चे ने अन्य पारित किये प्रस्तावों में पंजाब के मुख्य मंत्री से विधान सभा का विशेष सत्र बुला कर केंद्रीय कृषि बिलों को राज्य में रद्द करने को कहा है.

हिन्दुस्थान समाचार / नरेंद्र जग्गा