राजस्थानः बाड़मेर जिला जेल को कोविड सेंटर बनाने से खफा कैदियों ने सुविधाओं के लिए किया प्रदर्शन

Barmer District Jail
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

बाड़मेर, राजस्थान।

जिला जेल में कोरोना के सर्वाधिक रोगी मिलने और प्रशासन की ओर से जेल को ही कोविड सेंटर बना दिए जाने के बाद सुविधाओं को लेकर कैदियों ने गुरुवार सवेरे जेलर के खिलाफ प्रदर्शन किया.

कोरोना के पहले केस से लेकर अब तक के 140 दिनों में यह पहली बार हुआ है जब जिला जेल में एक ही दिन में 126 कैदी संक्रमित पाए गए. जेल में तीन दिन पूर्व 4 कैदी कोरोना संक्रमित पाए गए थे, इसके बाद जेल के सभी 189 कैदियों के सैंपल लिए गए. इन सैंपल की जांच रिपोर्ट में एक साथ 126 कैदी पॉजिटिव मिल गए.

इतनी बड़ी तादाद में कैदियों को सरकारी कोविड सेंटर में रख पाना सुरक्षा के लिहाज से मुश्किल था, ऐसे में जेल के अंदर ही दो बैरक को अस्थाई कोविड वार्ड बना दिया गया है. कैदियों ने जेल प्रशासन के खिलाफ हंगामा कर नाराजगी जताई.

आरोप है कि पॉजिटिव कैदियों को सिर्फ दो बैरक में भेड़-बकरियों की तरफ ठूंस-ठूंस कर भर दिया है. जबकि एक बैरक में स्वस्थ कैदियों को रखने की क्षमता 66 है, जबकि इतने ही पॉजिटिव कैदी भरे हुए है.

पॉजिटिव कैदियों ने जेल प्रशासन पर उनके स्वास्थ्य के प्रति लापरवाही के आरोप लगाए है. उन्हें सुरक्षित जगह के कोविड सेंटर शिफ्ट किए जाने की मांग की है. कैदियों ने हंगामे और जेलर सुमेरसिंह के खिलाफ प्रदर्शन का एक वीडियो वायरल किया है. सोशल मीडिया पर वायरल हुए वीडियो में जेलर पर गंभीर आरोप लगाए गए हैं.

हिन्दुस्थान समाचार/रोहित