दिल्ली में सरकारी जमीनों पर बढ़ रही मस्जिदों की संख्या पर BJP नेता का बवाल

नई दिल्ली, 19 जून. पश्चिमी दिल्ली से बीजेपी के सांसद प्रवेश साहिब सिंह वर्मा का कहना है कि उनके लोकसभा क्षेत्र सहित पूरी दिल्ली में सड़कों के किनारे, सरकारी जमीनों एवं एकांत स्थलों पर मस्जिदों की संख्या लगातार बढ़ रही है.

वर्मा ने बुधवार को बातचीत करते हुए कहा कि उन्होंने 18 जून को दिल्ली के उप-राज्यपाल अनिल बैजल को पत्र लिखकर मामले से अवगत कराया है.

प्रवेश वर्मा ने उपराज्यपाल को लिखे पत्र में कहा कि सड़क किनारे एवं सरकारी जमीनों पर तथा एकांत स्थानों पर मस्जिदों के निर्माण में तेजी आई है.

जिस कारण राजधानी में जाम की समस्या बढ़ रही है और यातायात व्यवस्था प्रभावित हो रही है. उन्होंने उपराज्यपाल से अनुरोध किया है कि मामले पर संज्ञान लेते हुए उचित कार्रवाई के आदेश दें.

लगातार दूसरी बार सांसद बने हैं प्रवेश
प्रवेश वर्मा दिल्ली के पूर्व मुख्यमंत्री स्व. साहिब सिंह वर्मा के बेटे हैं. उन्होंने 2014 आम चुनाव में मोदी लहर में पहली बार जीत दर्ज की थी. प्रवेश साहिब सिंह वर्मा को दिल्ली बीजेपी का एक बड़ा युवा चेहरा माना जाता है.

उनका जन्म 7 नवंबर 1977 को दिल्ली में हुआ था. उनके परिवार में उनकी पत्नी स्वाति सिंह और 3 बच्चे हैं. लोकसभा चुनाव 2019 में प्रवेश वर्मा आम आदमी पार्टी के प्रत्याशी बलबीर सिंह जाखड़ और कांग्रेस के महाबल मिश्रा को चुनाव हराकर दूसरी बार संसद पहुंचे हैं.

हालांकि प्रवेश वर्मा ने साल 2009 में ही सक्रिय राजनीति में कदम रख लिया था. तब उन्होंने पश्चिमी दिल्ली लोकसभा सीट से चुनाव लड़ने की पूरी तैयारी भी कर ली थी, लेकिन पार्टी ने उन्हें टिकट नहीं दिया था.

साल 2013 में दिल्ली विधानसभा के चुनाव में बीजेपी ने प्रवेश वर्मा को महरौली विधानसभा से टिकट दिया था जिसमें उन्होंने जीत हासिल की थी.

इसके बाद 2014 के आम चुनाव में मोदी लहर में प्रवेश वर्मा को पश्चिमी दिल्ली संसदीय सीट से बीजेपी ने उम्मीदवार बनाया और यहां से जीत हासिल कर वह पहली बार संसद पहुंचे थे.

Leave a Comment

%d bloggers like this: