प्रणब मुखर्जी के गुर्दे की समस्या में सुधार: अस्पताल

pranab mukherjee
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

कोरोना संक्रमण के कारण अस्पताल में भर्ती पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के गुर्दे संबंधी मानकों में शनिवार को सुधार हुआ है. हालांकि वह अभी भी गहरे कोमा में हैं और जीवनरक्षक प्रणाली पर हैं.

सेना के रिसर्च और रेफरल (आरएंडआर) अस्पताल, दिल्ली कैंट ने शनिवार को प्रणब मुखर्जी का स्वास्थ्य बुलेटिन जारी कर कहा कि उनकी रक्त आपूर्ति संबंधी क्रियाएं स्थिर (हिमोडायनेमिकली स्टेबल) हैं. ऐसी स्थिति में रक्त आपूर्ति मानक-रक्तचाप, हृदय और नब्ज की रफ्तार स्थिर और सामान्य होती है.

डॉक्टरों ने कहा कि प्रणब मुखर्जी गहन देखरेख में हैं. उनके फेफड़ों के संक्रमण और गुर्दे की शिथिलता का इलाज किया जा रहा है. वे अभी भी गहन कोमा में हैं और जीवनरक्षक प्रणाली पर हैं. वह पिछले 19 दिनों से अस्पताल में भर्ती हैं.

84 वर्षीय प्रणब मुखर्जी को गंभीर हालत में 10 अगस्त को अस्पताल में भर्ती कराया गया था. अस्पताल में जांच के दौरान मस्तिष्क में खून के थक्के होने की बात सामने आई और इसके बाद उनकी आपातकालीन जीवन रक्षक सर्जरी हुई थी. सर्जरी के बाद से वह वेंटिलेटर पर हैं और उनकी स्थिति अब भी गंभीर हैं. वह कोरोना पॉजिटिव भी हैं.

हिन्दुस्थान समाचार/सुशील