दिवाली से पहले 'जानलेवा' दिल्ली

दिल्ली में प्रदूषण  खतरनाक स्तर पर पहुंच गया है. दिल्ली के लगभग सभी इलाकों में सुबह एयर क्वालीटी  500 के पार रही. लोगों को प्रदूषण के कारण सांस लेने में दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है.
देश की राजधानी दिल्ली में दिवाली के दो दिन पहले ही प्रदूषण स्तर खतरनाक लेवल पर पहुंच चुका है. कई जगहों पर तो प्रदूषण स्तर इतना ज्यादा खराब हो चुका है कि लोगों का सांस लेना में भी दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है.
दिल्ली और दिल्ली एनसीआर के सभी इलाके स्मॉग की चपेट में है. इन सभी जगहों पर एयर क्वालिटी 500 के स्तर के पार पहुंच चुकी है.
दिवाली आने से पहले ही दिल्ली का बुरा हाल है. राजधानी में PM 2.5 और PM 10 दोनों ही पूअर कैटगरी में शामिल है. रिपोर्टस के अनुसार एयर क्वालिटी इंडेक्स मेजर ध्यानचंद स्टेडियम में 676 है, वहीं नेहरु स्टेडियम पर 681 है.
दिल्ली में स्मॉग के कारण प्रदूषण तत्व वातावरण में बहुत नीचे आ गए है. वहीं राजधानी के तापमान में भी गिरावट दर्ज की गई है.
दिल्ली में आज सुबह तापमान 14 डिग्री दर्ज किया गया.वहीं स्मॉग और प्रदूषण के मिक्स होने के कारण राजधानी के सफदरजंग इलाके में विजिबिलटी 500 से 600 रही.
प्रदूषण स्तर को देखते हुए दिल्ली में निर्माण गतिविधियों में 10 नवंबर तक रोक लगा दी गई है. वहीं कोयला और बायोमास के इस्तेमाल पर भी प्रतिंबध लगा दिया है.
प्रदूषण नियंत्रण कमेटी ने सभी सरकारी एंजेसियों को निर्देश दिए है कि दिल्ली के हॉट स्पॉट में प्रदूषण फैलाने वाले वाहनों पर प्रतिबंध लगाएं
पर्यावरण प्रदूषक निवारक प्रधानिकरण के चैयरमैन भूरे लाल के अनुसार 1 से 10 नंवबर तक दिल्ली में प्रदूषण स्तर को कम करने के लिए जो कदम उठाएं है, अगर वह सुधार नहीं कर पाते है, तो और भी सख्त कदम उठाए जाएंगे. जिन में प्राइवेट गाड़ियों को बैन करना भी शामिल है.
आपको बता दें दिल्ली में चलाए जा रहे क्लीन एयर अभियान के तहत 2 और 3 नवंबर को दिल्ली-एनसीआर के इलाकों से 80 लाख का जुर्माना वसूला गया.

%d bloggers like this: