हिंसा का राजनीतिकरण करना ठीक नहीं: प्रकाश जावड़ेकर

नई दिल्ली. दिल्ली में हिंसा पर कांग्रेस जहां गृहमंत्री अमित शाह से इस्तीफे की मांग कर रही है, वहीं केन्द्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा कि जिनके हाथ सिखों के नरसंहार से रंगे हों, उनको ऐसी बातें नहीं करनी चाहिए. हिंसा का राजनीतिकरण करना ठीक नहीं है. इसकी भर्तसना की जानी चाहिए.

कांग्रेस के सवाल पर कि हिंसा के समय अमित शाह कहां थे, प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि गृहमंत्री ने दिल्ली में हिंसा की स्थिति पर मंगलवार की रात मुख्यमंत्री के साथ बैठक की. पूरी स्थिति का जायजा लिया. गृहमंत्री लगातार दिल्ली में काम करते रहे हैं, लेकिन कांग्रेस के बयान से दिल्ली पुलिस का मनोबल पर प्रभाव पड़ता है.

उन्होंने राजनीतिक दलों से अपील करते हुए कहा कि इस मामले में राजनीति न की जाए. सभी का पहला उद्देश्य होना चाहिए कि राजधानी में हिंसा पूरी तरह से रुके और शांति स्थापित हो.

जावड़ेकर ने कहा कि हिंसा पर चर्चा के लिए संसद का सत्र है. वहां चर्चा कर सकते हैं. उन्हाेंने कहा कि जिनके हाथ सिखों के नरसंहार से रंगे हों, वो अचानक सत्ता से सवाल करने पहुंच जाते हैं.

इस पर आश्चर्य होता है. उन्होंने कहा कि दिल्ली में पुलिस जांच कर रही है, सच्चाई सभी के सामने आएगी कि कौन इसके पीछे है. पिछले दो महीने से लोगों को कौन उकसा रहा है. सच को आंच नहीं होती.

हिन्दुस्थान समाचार/विजयलक्ष्मी/बच्चन

Leave a Reply

%d bloggers like this: