राहत इंदौरी के निधन पर तमाम राजनेताओं ने जताया शोक

Rahat Indori Passes Away
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

मध्य प्रदेश के मशहूर शायर राहत इंदौरी कोरोना से जिंदगी की जंग हार गए. आज (मंगलवार) शाम कोरोना से उनकी मौत हो गई. उन्हें कल देर रात अस्पताल में भर्ती कराया गया था. उन्होंने इंदौर के आरबिंदो अस्पताल में अपनी आखिरी सांस ली. वे शुगर और हार्ट पेसेंट थे. निमोनिया के चलते उनके फेफड़ों में इंफेक्शन हो गया था. जिसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था.

राहत के निधन पर राजनेताओं ने जताया दुख

राहत इंदौरी के निधन पर रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने दुख जताया. उन्होंने ट्वीटर पर लिखा कि मक़बूल शायर राहत इंदौरीजी के गुज़र जाने की खबर से मुझे काफ़ी दुख हुआ है. उर्दू अदब की वे क़द्दावर शख़्सियत थे. अपनी यादगार शायरी से उन्होंने एक अमिट छाप लोगों के दिलों पर छोड़ी है. आज साहित्य जगत को बड़ा नुक़सान हुआ है. दुख की इस घड़ी में मेरी संवेदनाएं उनके चाहने वालों के साथ हैं.

सीएम शिवराज ने लिखा भावुक पोस्ट

राहत इंदौरी के निधन के बाद सीएम शिवराज ने उनको याद करते हुए 2 ट्वीट किए. उन्होंने अपने पहले ट्वीट में एक कविता पोस्ट की. उन्होंने लिखा कि राह के पत्थर से बढ़ कर कुछ नहीं हैं मंज़िलें, रास्ते आवाज़ देते हैं सफ़र जारी रखो. एक ही नदी के हैं ये दो किनारे दोस्तों, दोस्ताना ज़िंदगी से मौत से यारी रखो. राहत जी आप यूँ हमें छोड़ कर जाएंगे, सोचा न था. आप जिस दुनिया में भी हों, महफूज़ रहें, सफर जारी रहे.

उन्होंने अपने दूसरे ट्वीट में लिखा कि अपनी शायरी से लाखों-करोड़ों दिलों पर राज करने वाले मशहूर शायर, हरदिल अज़ीज़ श्री राहत इंदौरी का निधन मध्यप्रदेश और देश के लिए अपूरणीय क्षति है. मैं ईश्वर से प्रार्थना करता हूँ कि उनकी आत्मा को शांति दें और उनके परिजनों और चाहने वालों को इस अपार दुःख को सहने की शक्ति दें.

कमलनाथ ने भी किया याद

पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने राहत इंदौरी को याद करते हुए लिखा कि ख्यात शायर, प्रदेश ही नहीं देश की शान राहत इंदौरी साहब के दुःखद निधन का समाचार सुन मैं स्तब्ध हूं. आज सुबह ही उनके अस्वस्थ होने का समाचार मिला, हम सभी ने दुआ की कि वे जल्द स्वस्थ हो लेकिन वो हमें यूँ अचानक, असमय छोड़ जाएंगे, यह विश्वास नहीं हो रहा है.

उन्होंने लिखा कि सामाजिक सद्भाव के वे हमेशा पक्षधर रहे, उन्होंने अपनी बेजोड़ शायरी से इंदौर शहर का नाम देश भर में रोशन किया. अदभुत कला के व्यक्तित्व राहत इंदौरी साहब के निधन पर मै अपनी ओर से परिवार के प्रति संवेदनाएँ व्यक्त करता हूं.