ग्वालियर : पूरा थाना क्वारेंटाइन, गेट पर लगा ताला

ग्वालियर, 05 जून (हि.स.). कोरोना महामारी के इस दौर में अजीबोगरीब चीजें सामने आ रही हैं. आम तौर पर पुलिस थाने 24 घंटे खुले रहते हैं, लेकिन जिले का एक पुलिस थाना न सिर्फ खाली हो गया है, बल्कि थाने के गेट पर ताला भी डाल दिया गया है. दरअसल, स्वास्थ्य विभाग ने एक कोरोना पॉजीटिव पाए जाने के बाद थाने को क्वारेंटाइन कर दिया है और यहां पर कार्यरत सभी पुलिसकर्मियों के सेम्पल जांच के लिए भेजे जा रहे हैं. 

प्राप्त जानकारी के अनुसार ग्वालियर  जिले के चीनौर थाने को स्वास्थ विभाग ने क्वारेंटाइन कर दिया है. थाने में करीब 20 पुलिसकर्मी तैनात हैं और सभी को क्वारेंटाइन कर दिया गया है. पूरे थाना परिसर को बंद कर मेन गेट पर ताला लगा दिया गया है और परिसर के बाहर शिकायत पेटी लटका दी गयी है. थाना क्वारेंटाइन होने के बाद इस इलाके में कानून व्यवस्था पर संकट खड़ा हो गया है और ये सब हुआ है एक सिपाही की वजह से जिसे भोपाल में कोरोना पॉजीटिव पाया गया है. 

भोपाल के सिपाही ने की थी चीनौर थाने में ड्यूटी 

मार्च के महीने में भोपाल में तैनात पुलिस का एक सिपाही छुट्टियों में ग्वालियर जिले के चीनौर थाना क्षेत्र में स्थित अपने गांव गया था. इसी बीच लॉकडाउन शुरू हो गया. पुलिस महकमे ने उक्त सिपाही को आदेश दिया कि वह चीनौर थाने में ही आमद दे और ड्यूटी शुरू करे. सिपाही ने यहां करीब दो माह तक लॉकडाउन ड्यूटी की. लॉकडाउन खत्म होने के बाद विभाग ने उक्त सिपाही को वापस भोपाल पहुंचने के निर्देश दिये. जिसके बाद सिपाही को 01 जून को चीनौर से भोपाल रवाना कर दिया गया. भोपाल पहुंचने पर जब इस सिपाही का कोरोना टेस्ट कराया गया, तो उसकी रिपोर्ट पॉज़िटिव आयी. खबर मिलते ही हड़कंप मच गया और स्वास्थ विभाग के निर्देश पर चीनौर थाने को बंद कर 20 पुलिसकर्मियों को क्वारेंटाइन कर दिया गया है. अब थाने के गेट पर ताला लगा दिया गया है और पूरे स्टाफ को क्वारेंटाइन कर दिया गया है. वहीं, सिपाही के गांव में भी अलर्ट जारी कर दिया गया है. सिपाही के परिवार वाले और उसके संपर्क में आए गांव के 93 लोगों को क्वारेंटाइन किया गया है. इनके भी सेम्पल लिए जा रहे हैं. 

हिन्दुस्थान समाचार/केशव दुबे

Leave a Reply

%d bloggers like this: