‘मन की बात’ में पीएम बोले- कोरोना का संकट अभी टला नहीं

Pm Modi
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

पीएम मोदी ने करगिल विजय दिवस पर मन की बात कार्यक्रम के जरिए देश को संबोधित किया. इस अवसर पर पीएम ने देश के सैनिकों की बहादुरी को याद किया है. मन की बात में पीएम मोदी ने कहा कि उस वक्त भारत, पाकिस्तान से मित्रता चाहता था, लेकिन पाकिस्तान ने बड़े-बड़े मंसूबे पालकर करगिल युद्ध का दुस्साहस किया था.

पीएम ने कहा कि दुष्ट का स्वभाव ही होता है हर किसी से बिना वजह दुश्मनी लेना. पाकिस्तान ऐसा ही कर रहा था. उन्होंने कहा कि इस युद्ध में भारत के सच्चे पराक्रम की जीत हुई. करगिल का युद्ध जिन परिस्थितियों में हुआ वो भारत कभी भूल नहीं सकता है.

कोरोनाकाल में सेवा करने वालों का जिक्र

कोराना पर बात करते हुए मोदी ने कहा आज हमारे देश में रिकवरी रेट बेहतर है. देश में कोरोना का मृत्यु दर भी काफी कम है. मोदी बोले कि कोरोना से अभी गंभीरता से लड़ना है. पीएम ने कोरोना काल में ग्रामीण क्षेत्रों ने देश को दिशा दिखाई. पंचायतों ने काफी अच्छे प्रयास किया.

पीएम ने जम्मू की सरपंच बलबीर कौर का जिक्र किया. पीएम ने कहा कि बलबीर कौर ने 30 बेड का एक क्वारंटाइन सेंटर बनवाया. बलबीर ने खुद पूरी पंचायत में सैनिटाइजेशन का काम किया. जेतूना बेगम ने अपनी पंचायत में कोरोना से जंग के साथ रोजगार के अवसर पैदा किए. फ्री मास्क, फ्री राशन बांटा. फसलों के बीज दिए ताकि खेती में दिक्कत न आए.

अनंतगान के मोहम्मद इकबाल का जिक्र करते हुए पीएम ने कहा कि मोहम्मद इकबाल ने सैनिटाइजेशन के लिए खुद ही स्प्रेयर मशीन बना ली है. यह मशीन बाहर से 6 लाख की थी जो उन्होंने सिर्फ 50 हजार में तैयार की है.

लोकल फॉर वोकल का जिक्र

पीएम मोदी ने कहा कि अभी कुछ दिन बाद रक्षाबंधन का पावन पर्व आ रहा है. मैं इन दिनों देख रहा हूं कि कई लोग और संस्थायें इस बार रक्षाबंधन को अलग तरीके से मनाने का अभियान चला रहें हैं. कई लोग इसे Vocal for local से भी जोड़ रहे हैं और बात भी सही है. जब हम कुछ नया करने का सोचते हैं तो ऐसे काम भी संभव हो जाते हैं, जिनकी आम-तौर पर कोई कल्पना नहीं करता.