PM Modi Foreign Tour

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 13 जून को शंघाई सहयोग संगठन (SCO) सम्मेलन में शामिल होने के लिए किर्गिस्तान की राजधानी बिश्केक जाएंगे. बिश्केक जाने के लिए पीएम मोदी पाकिस्तान के रास्ते नहीं जाएंगे. विदेश मंत्रालय की जानकारी के अनुसार पीएम मोदी का विमान बिश्केक जाने के लिए पाकिस्तान के हवाई क्षेत्र से नहीं गुजरेगा.

विदेश मंत्रालय के आधिकारिक प्रवक्ता ने कहा कि पीएम मोदी का विमान ओमान, ईरान और मध्य एशियाई देशों से किर्गिस्तान के बिश्केक जाएगा. उन्होंने कहा कि पहले हम विमान को ले जाने के दो विकल्पों पर विचार कर रहे थे, लेकिन अब पाकिस्तान के रास्ते से नहीं जाने का फैसला लिया गया है.

बता दें कि पीएम मोदी 13-14 जून को होने वाले शंघाई सहयोग संगठन (SCO) समिट में शामिल होने के लिए किर्गिस्तान की राजधानी बिश्केक जाएंगे. पहले इस यात्रा में पीएम मोदी के प्लेन को पाकिस्तान से उड़ना था. पीएम मोदी को रास्ता देने के लिए पाकिस्तान ने अपना एयरस्पेस खोलने की मंजूरी दे दी थी.

एयर स्ट्राइक के बाद पाक ने बंद किए हवाई मार्ग

बालाकोट हमले की जवाबी कार्रवाई करते हुए पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर में चल रहे आतंकी कैंपों पर एयर स्ट्राइक की थी. एयरस्ट्राइक के बाद से ही पाकिस्तान ने अपने हवाई मार्गों को बंद कर दिया था. पाक ने कुछ दिनों पहले ही अपने 11 हवाई मार्गों में से दक्षिणी पाकिस्तान से होकर जाने वाले केवल दो मार्ग ही खोले गए हैं.

सुषमा स्वराज को मिली थी विशेष अनुमति

इससे पहले पाक ने पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के विमान को किर्गिस्तान के बिश्केक जाने के लिए विशेष अनुमति दी थी. सुषमा को यहां एससीओ में विदेश मंत्रियों की बैठक में शामिल होना था. 21 मई को पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के बिश्केक जाने के लिए पाकिस्तान ने अपने हवाई क्षेत्र खोले थे. सुषमा स्वराज भी एससीओ समिट में हिस्सा लेने गई थीं.

4 COMMENTS

  1. […] पीएम मोदी इस दौरान कई देशों के नेताओं के साथ द्विपक्षीय वार्ता करेंगे. वह इस शिखर सम्मेलन से इतर किर्गिस्तान के राष्ट्रपति सूरोनबे जीनबेकोव के साथ भी द्विपक्षीय वार्ता करेंगे. […]

  2. […] पीएम मोदी इस दौरान कई देशों के नेताओं के साथ द्विपक्षीय वार्ता करेंगे. वो इस शिखर सम्मेलन से इतर किर्गिस्तान के राष्ट्रपति सूरोनबे जीनबेकोव के साथ भी द्विपक्षीय वार्ता करेंगे. […]

  3. […] पाकिस्तान काफी समय तक एचआईवी के लिए कम प्रसार वाला देश माना जाता था, लेकिन अब यहां यह बीमारी खासकर सिरिंज से ड्रग लेने वालों और सेक्स वर्कर्स के बीच महामारी का रूप ले रही है. […]

Leave a Reply