गुरु पूर्णिमा पर अपने अध्यात्म गुरू से मिले PM Modi, किया ये खास ट्वीट

  • कर्नाटक के उडुपी में स्थित श्री पीजवारा मठ (Pejawara Matha) के महंत श्री विश्वेश तीर्थ स्वामीजी, पीएम मोदी के अध्यात्मिक गुरू हैं
  • लोकसभा चुनाव में प्रचंड जीत हासिल करने के बाद पीएम मोदी ने श्री विश्वेश तीर्थ स्वामीजी से मुलाकात करके उनका आशिर्वाद लिया था

गुरु पूर्णिमा (Guru Purnima) के अवसर पर गुरुओं का आशिर्वाद लेना शुभ होता है. आज के दिन अपने गुरुओं का आशिर्वाद प्राप्त करने वाला शख्स जीवन में कभी असफल नहीं होता है. इस अवसर पर पीएम मोदी ने भी अपने अध्यात्म गुरू से मुलाकात की.

कर्नाटक के उडुपी में स्थित श्री पीजवारा मठ (Pejawara Matha) के महंत श्री विश्वेश तीर्थ स्वामीजी (Vishvesh Teerth Swamiji), पीएम मोदी के अध्यात्मिक गुरू हैं. स्वामी विश्वेश्वर तीर्थ पेजवारा आदोक्षजा मठ के वर्तमान पीठासीन स्वामी हैं, जो दर्शन स्कूल से संबंधित अष्ट मठों में से एक हैं. पीएम मोदी ने आज उन्हीं का आशिर्वाद प्राप्त किया. पीएम ने अपनी इस मुलाकात का अनुभव ट्विटर पर भी साझा किया.

ट्वीट कर दी जानकारी

पीएम मोदी ने ट्वीट करके लिखा कि कहा कि एक खास दिन और भी खास बना. गुरु पूर्णिमा के धन्य अवसर पर, उडुपी के श्री पीजवारा मठ के श्री विश्वेश तीर्थ स्वामीजी के साथ समय बिताने का सम्मान मिला. उनसे सीखना और उनके विचारों को सुनना एक बहुत ही विनम्र अनुभव है.

https://platform.twitter.com/widgets.js

चुनाव जीतने के बाद लिया था आशिर्वाद

हाल ही के लोकसभा चुनाव में प्रचंड जीत हासिल करने के बाद पीएम मोदी ने श्री विश्वेश तीर्थ स्वामीजी से मुलाकात करके उनका आशिर्वाद लिया था. जानकारी के मुताबिक बीजेपी के चुनाव जीतने के बाद स्वामी जी ने खुद पीएम मोदी को बुलाया था.

2018 में मोदी सरकार की थी आलोचना

 88 वर्षीय स्वामीजी को महान समाज सुधारक और राष्ट्रवादी के रूप में जाना जाता है. और वे अपनी बात को हमेशा बेबाक तरीके से रखते हैं. लोकसभा चुनाव से पहले स्वामी जी ने मोदी सरकार पर अपेक्षा के अनुरूप कार्य नहीं करने का आरोप लगाया था. उन्होंने कहा था कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व वाली राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) सरकार का कार्य-प्रदर्शन अपेक्षित स्तर का नहीं रहा है.

Trending Tags- Guru Purnima | PM Modi | Narendra Modi |
Pejawara Matha

Leave a Reply

%d bloggers like this: