चीन को सबक सिखाने की तैयारी, सरकार ने उठाया ये बड़ा कदम

china12
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

नई दिल्ली. चीन लगातार कई तरीकों से भारत को कमजोर करने की कोशिश में लगा हुआ है. पहले तो चीन ने दूसरे देशों के साथ भारत के रिश्तों को खराब करने की कोशिश की. इसके बाद भी जब चीन भारत को नहीं झूका पाया तो उसने खुद ही बॉर्डर पर टेंशन बढ़ा दी है. ऐसे में चीन को सबक सिखाने के लिए मोदी सरकार ने भी कई तरीके निकाल लिए हैं.

मोदी सरकार ने धीरे-धीरे चीन को कंगाल करने का प्लान बना लिया है. इसकी शुरूआत सरकार ने टेलीकॉम कंपनियों से कर दी है. सरकार ने टेलीकॉम कंपनी बीएसएनएल यानी भारत संचार निगम लिमिटेड  को अपने 4G अपग्रेडेशन प्रोग्राम में चीनी उपकरणों के उपयोग पर प्रतिबंध लगाने का निर्देश दिया है. जो कि एक बहुत ही बड़ा और अहम कदम है. इस कदम से न सिर्फ चीन हिल कर रह जाएगा बल्कि भारतीय बाजार में उसका दबदबा भी कम होगा.

सरकार ने इसके अलावा इस बारे में जारी पूरे टेंडर को नए सिरे से जारी किये जाने के लिए भी कहा गया है. सरकार इस समय सिर्फ मेड इन इंडिया पर फोकस करना चाहती है. ताकि चीन को पूरी तरीके से भारत से भगाया जा सके. इस खबर के बाद आईटीआई के शेयर में जोरदार तेजी आई है. एनएसई पर कंपनी का शेयर 15 फीसदी से ज्यादा उछल गया है.

आपको बता दें कि 4G अपग्रेडेशन प्रोग्राम BSNLके रिवाइवल प्लान का हिस्सा है. दूरसंचार विभाग प्राइवेट टेलीकॉम सर्विस प्रदाता कंपनियों को भी चीन के बने उपकरणों पर अपनी निर्भरता कम करने के लिए कहने पर गंभीरता से विचार कर रहा है.

 पीएम मोदी ने लोकल- वोकल पर फोकस करने का नारा दिया है. जिसे देश की जनता ने भी माना है. मोदी सरकार के साथ इस मुद्दे पर पूरा देश एकजुट होकर खड़ा है. ताकि चीन को उसी की भाषा में सबक सिखाया जा सके.