पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस नियामक बोर्ड ने बीकानेर को किया शामिल, अब पाइप लाइन से होगी गैस आपूर्ति

बीकानेर, 26 फरवरी (हि.स.). पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस नियामक बोर्ड (पीएनजीआरबी) ने ग्यारहवें सिटी गैस डिस्ट्रीब्यूशन (सीजीडी) नेटवर्क की बीडिंग में बीकानेर को शामिल कर लिया गया है.

केंद्रीय मंत्री अर्जुनराम मेघवाल ने बुधवार को बताया कि बीकानेर में सेरेमिक इंडस्ट्री के विकास के लिए नेचुरल गैस की आवश्यकता है. भौगोलिक रूप से बीकानेर थार मरुस्थल का मध्य स्थल होने के कारण यहां की पर्यावरणीय स्थिति एवं बालक्ले, सिलिका सेंड, जिप्सम जैसे खनिजों की बहुतायत में उपलब्धता सिरेमिक उद्योगों के विकास लिए एक सुनहरा अवसर है.

उन्होंने बताया कि प्रतिवर्ष बीकानेर क्षेत्र से लगभग 31 लाख टन क्ले कच्चे माल के रूप में माइनिंग करके मोरबी गुजरात सहित देश के दूसरे राज्यों में निर्यात की जाती है. बीकानेर के नजदीक ही श्रीकोलायत का गजनेर क्षेत्र को सिरेमिक इंडस्ट्री के लिए इंडस्ट्रियल हब के रूप में मार्क किया जा चुका है.

प्राकृतिक गैस की उपलब्धता होने से इस क्षेत्र में 250 से अधिक सिरेमिक की औद्योगिक इकाई स्थापित की जा सकेगी तथा यह बीकानेर जिला सिरेमिक के हब के रूप में उभरेगा जो कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के वन डिस्ट्रिक्ट वन प्रोडक्ट के विजन के अनुरुप है.

मेघवाल को बताया कि इस विषय को गंभीरता पूर्वक लेकर उनके द्वारा पूर्व में कई बार केंद्रीय पेट्रोलियम प्राकृतिक गैस मंत्री धर्मेंद्र प्रधान से बीकानेर क्षेत्र में जैसलमेर बाड़मेर क्षेत्र से पाइपलाइन के जरिए प्राकृतिक गैस की उपलब्धता सुनिश्चित करने का अनुरोध किया जा चुका है. अब तक के प्रयासों का ही परिणाम है कि हाल ही में पेट्रोलियम एंड नेचुरल गेस रेगुलेटरी बोर्ड ने 11वे सिटी गैस डिस्ट्रीब्यूशन नेटवर्क की बिडिंग में बीकानेर को शामिल किया गया है.

हिन्दुस्थान समाचार/राजीव/संदीप

Leave a Reply

%d bloggers like this: