जयपुर मैराथन में दिखा लोगों का उत्साह

जयपुर. जयपुर मैराथन के 11वें संस्करण का आयोजन रविवार को हुआ.राज्यपाल कलराज मिश्र ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया इस दौरान आरसीए अध्यक्ष वैभव गहलोत, मंत्री बीडी कल्ला, निर्माता निर्देशक मधुर भंडाकर सहित कई गणमान्य मौजूद रहे.मैराथन में भारत देश समेत 35 देशों के करीब एक लाख धावकों ने हिस्सा लिया.मैराथन में 41 किलोमीटर की फुल मैराथन का आयोजन किया गया तो वहीं 21 किमी मैराथन में भी हजारों धावकों ने दौड़ लगाई.

जयपुर मैराथन के आयोजक पंडित सुरेश मिश्रा ने बताया कि मैराथन के लिए रात दो बजे से ही धावकों का पहुंचना शुरू हो गया था.वहीं आरसीए अध्यक्ष वैभव गहलोत ने धावकों की हौसला आफजाई करते हुए कहा कि “सालों से जयपुर की शान बन चुकी जयपुर मैराथन में उत्साह अपने चरम पर रहता है,,और अपनी फीटनेस के प्रति जागरुक लोग भी इस मैराथन में भाग लेने यहां पहुंचते हैं.उन्होंने कहा कि इस मैराथन की सफलता बताती है की जयपुर मैराथन सिर्फ भारत ही नहीं पूरे विश्व में कितना ख्याती प्राप्त कर चुकी है.इस दौरान आरसीए अध्यक्ष वैभव गहलोत की पुत्री उत्साहित नजर आई और अपने पिता के साथ कार्यक्रम में लगातार मौजूद रही.

जयपुर मैराथन के आयोजक और संस्कृति युवा संस्था के संयोजक पंडित सुरेश मिश्रा ने जयपुर मैराथन को ऐतिहासिक बताते हुए कहा कि “हर साल जयपुर में होने वाली मैराथन का क्रेज अब पूरे विश्व में पहुंच चुका है,,और देश विदेश से भी इस मैराथन में भाग लेने के लिए हजारों धावक जयपुर पहुंचे.हालांकि इस साल किसी बड़ी सिलेब्रेटी को नहीं बुलाने के बावजुद भी जयपुर मैराथन की लोकप्रियता में कोई कमी नहीं आई है.

गिनिज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड के लिए भी दावा

ग्रीन,क्लीन और स्मार्ट सिटी के संदेश के साथ आयोजित हुई जयपुर मैराथन में इस साल 11 हजार धावकों द्वारा एक ही ड्रैस में दौड़ लगाकर गिनिज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड के लिए भी दावा पेश किया है.

हिन्दुस्थान समाचार/दिनेश

Leave a Reply

%d bloggers like this: