पतंजलि के सीईओ आचार्य बालकृष्ण को हार्ट अटैक, ऋषिकेश एम्स रेफर

हरिद्वार. योग गुरु बाबा रामदेव के सहयोगी और पतंजलि आयुर्वेद के सीईओ आचार्य बालकृष्ण को हार्ट अटैक आने पर आज यहां तुरंत भूमानंद हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया. हालत गंभीर होने पर उन्हें ऋषिकेश एम्स के लिए रेफर कर दिया गया है.

आचार्य बालकृष्ण शुक्रवार दोपहर पतंजलि संस्थान के बहादराबाद के फेज वन स्थित ऑफिस में थे तभी उनकी तबीयत बिगड़ गई. इसके बाद उनके स्टाफ में हड़कंप मच गया.

आचार्य बालकृष्ण को शुक्रवार दोपहर पतंजलि ऑफिस में काम के दौरान सीने में दर्द हुआ, जिसके बाद उन्हें भूमानंद अस्पताल ले जाया गया. यहां से बालकृष्ण को एम्स ऋषिकेश रेफर किया गया है. उनकी हालत नाजुक बताई जा रही है.

भूमानंद अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक डॉ. आकाश ने बताया कि आचार्य बालकृष्ण को अस्पताल बेहोशी की हालत में लाया गया था. बताया गया कि उन्हें खाने में दिक्कत हुई थी और उसके बाद वह बेहोश हो गए.

डॉ. आकाश का कहना है कि आचार्य बालकृष्ण को हृदय रोग से संबंधित कोई भी शिकायत नहीं पाई गई. जब उन्हें भूमानंद अस्पताल लाया गया, तब वे दर्द से छटपटा रहे थे और बेहोशी की अवस्था में थे। बीच-बीच में वो सवालों का भी जवाब दे रहे थे. पर यह नहीं बता पा रहे थे कि उन्हें दर्द कहां है। उनकी तकलीफ की शुरुआत खाना खाते समय हुई.

बालकृष्ण ने रामदेव के साथ मिलकर हरिद्वार में आचार्यकुलम की स्थापना की थी. वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा शुरू किए गए स्वच्छ भारत अभियान से भी जुड़े हैं. बालकृष्ण ने संस्कृत में आयुर्वेदिक औषधियों और जड़ी-बूटियों के ज्ञान में निपुणता हासिल की है और इसके प्रचार-प्रसार का कार्य करते रहे हैं.

आचार्य बालकृष्ण ने पतंजलि योगपीठ के आयुर्वेद केंद्र के माध्यम से पारंपरिक आयुर्वेद पद्धति को आगे बढ़ाने का कार्य किया है. बालकृष्ण ने आयुर्वेदिक औषधियों से संबंधित कई पुस्तकें भी लिखी हैं.

हिन्दुस्थान समाचार/रजनीकांत/राजेश

Leave a Reply

%d bloggers like this: