विधानसभा में स्वास्थ्य मंत्री के इस्तीफे पर अड़ा विपक्ष, कार्यवाही दो बजे तक के लिए स्थगित

  • विपक्षी दल के सदस्य मुजफ्फरपुर में चमकी बुखार से बड़ी संख्या में बच्चों की हुई मौत पर हंगामा करने लगे
  • श्रवण कुमार ने हंगामा कर रहे सदस्यों से अपना-अपना स्थान ग्रहण कर सदन को नियमानुकूल चलाने देने का आग्रह किया

पटना, 02 जुलाई. बिहार विधानसभा में विपक्ष ने मुजफ्फरपुर में चमकी बुखार से बड़ी संख्या में बच्चों की मौत के लिए स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे को जिम्मेदार ठहराते हुए उनके इस्तीफे अथवा बर्खास्तगी की मांग करते हुए सदन में मंगलवार को जोरदार हंगामा किया.

हंगामे के कारण विधानसभा की कार्यवाही 11:20 पर 2:00 बजे दिन तक के लिए स्थगित कर दी गई. मंगलवार को विधानसभा की कार्यवाही प्रारंभ होते ही सभापति विजय कुमार चौधरी ने सोमवार को कार्य मंत्रणा समिति की बैठक में लिए गए निर्णय से सदन को अवगत कराते हुए कहा कि प्रथम अनुपूरक प्रस्ताव 19 जुलाई को पेश किया जाएगा.

इस बीच विपक्षी दल के सदस्य मुजफ्फरपुर में चमकी बुखार से बड़ी संख्या में बच्चों की हुई मौत पर हंगामा करने लगे. शोरगुल कर रहे विपक्ष ने घटना के लिए स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे को जिम्मेदार ठहराते हुए उनके इस्तीफे की मांग की.

विपक्षी सदस्यों ने मंत्री मंगल पांडे के इस्तीफा न देने की स्थिति में सरकार से उन्हें बर्खास्त करने की मांग करते हुए हंगामा किया. प्रश्नोत्तर काल चलने देने के अध्यक्ष के आग्रह के बावजूद राजद के सदस्य अपनी मांग के समर्थन में सदन के बीचोबीच आ गए और नारेबाजी करने लगे.

राजद के साथ-साथ भाकपा माले के सदस्य भी वेल में आ गए. हंगामे के बीच ही सभा अध्यक्ष ने प्रश्नोत्तर काल प्रारंभ किया किंतु शोरगुल के कारण सवाल के जवाब नहीं सुने जा सके.

हंगामे में हस्तक्षेप करते हुए संसदीय कार्य मंत्री श्रवण कुमार ने कहा कि इस मुद्दे पर सदन में कार्य स्थगन मंजूर कर सोमवार को चर्चा कराई जा चुकी है और सरकार ने जवाब भी दिया है.

उन्होंने कहा कि प्रश्ननोत्तर काल बाधित कर प्रश्नों के माध्यम से उठाए गए महत्वपूर्ण मुद्दों का हल विपक्ष के सदस्य हल होने देना नहीं चाहते हैं और पूरी की पूरी कार्यवाही बाधित कर देना चाह रहे हैं.

उन्होंने कहा कि हठधर्मिता से सदन नहीं चलता और ऐसे मुद्दों को शून्यकाल में उठाना चाहिए. उन्होंने सदन को नियम से चलने देने का आग्रह किया जिससे बाकी समस्याओं का हल हो सके.

उन्होंने कहा कि लोकसभा के चुनाव में जिस तरीके से विपक्ष को बिहार की जनता ने रिजेक्ट कर दिया है, यदि यही रवैया रहा तो विधानसभा चुनाव में भी जनता उन्हें रिजेक्ट कर देगा. इस बीच हंगामा कर रहे विपक्ष ने मंगल पांडे को बच्चों का हत्यारा मंत्री कहकर संबोधित करते हुए उन्हें बर्खास्त करने की मांग को दोहराया.

श्रवण कुमार ने हंगामा कर रहे सदस्यों से अपना-अपना स्थान ग्रहण कर सदन को नियमानुकूल चलाने देने का आग्रह किया. उन्होंने कहा कि विपक्ष बच्चों की मौत पर राजनीति कर रहा है.

हंगामे के बीच विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि मुजफ्फरपुर की घटना पर सोमवार को विधानसभा में कार्य स्थगन प्रस्ताव आया था, जिसे अपने प्रिविलेज का इस्तेमाल करते हुए उन्होंने स्वीकार कर इस पर विशेष चर्चा भी कराई.

उन्होंने कहा कि मंत्री के इस्तीफे की मांग पर विपक्ष इस तरह अड़ा रहेगा तो सदन बिल्कुल नहीं चलेगा और उन्हें एक मिनट भी नहीं लगेगा सदन को स्थगित करने में.

अध्यक्ष के बार-बार आग्रह करने के बावजूद विपक्ष का हंगामा लगातार जारी रहा. सदन को अव्यवस्थित होता देख अध्यक्ष ने कार्यवाही 2:00 बजे दिन तक के लिए स्थगित कर दी. हिन्दुस्थान समाचार/रजनी

Trending Tags- JDU | Mangal Pandey | Aaj Ka Samachar | News Today | Vidhan Sabha

Leave a Reply

%d bloggers like this: