एक वीक पासवर्ड से अच्छा है, पासवर्ड का न होना

  • पासवर्ड को लेकर एक बार फिर एक रिपोर्ट सामने आई हैं
  • जिसमें कहा गया है कि वीक पासवर्ड रखने से अच्छा है कि आप पासवर्ड ही व रखें

नई दिल्ली. टेक्नोलॉजी जितनी तेजी से आगे बढ़ रही है, उतनी ही तेजी से हैंकर्स भी बढ़ रहे हैं. इसलिए बार-बार कई रिपोर्ट के जरिए कहा जाता है कि अपना पासवर्ड वीक न रखें ताकि वो आसानी से हैक हो जाये.

लेकिन बार-बार कहने और वर्निंग के बाद भी अपना पासवर्ड वीक ही रखते हैं. इसके पीछे का कारण ये है कि अक्सर कई लोगों को पासवर्ड याद ही नहीं रहता है.

ऐसे में पासवर्ड को लेकर एक बार फिर एक रिपोर्ट सामने आई हैं, जिसमें कहा गया है कि वीक पासवर्ड रखने से अच्छा है कि आप पासवर्ड ही व रखें. दुनियाभर में साइबर अपराध और डेटा चोरी की बढ़ती घटनाओं के बीच एक अध्ययन में दावा किया गया है कि इसकी एक बड़ी वजह पासवर्ड का चोरी हो जाना या कमजोर पासवर्ड होना है.

इसके बजाय किसी व्यक्ति का पासवर्ड से मुक्त होना उसे ज्यादा सुरक्षित और कारोबारों को अधिक कुशल बनाता है. विश्व आर्थिक मंच ने अपनी 2020 की सालाना बैठक के दौरान यह रिपोर्ट जारी की है.

इस रिपोर्ट में कहा गया है कि डेटा चोरी की पांच घटनाओं में से चार का कारण पासवर्ड का कमजोर होना या उसका चोरी हो जाना होता है. ये सिर्फ भारत के लिए ही नहीं बल्कि पूरी विश्व के लिए रिपोर्ट जारी की गई हैं.

2020 में साइबर अपराध से वैश्विक अर्थव्यवस्था को प्रत्येक मिनट 29 लाख डॉलर का नुकसान उठाना पड़ेगा. इसमें करीब 80 प्रतिशत साइबर हमले पासवर्ड से जुड़े होंगे.

अध्ययन में पाया गया कि याददाश्त पर आधारित कोई भी प्रमाणन प्रणाली फिर वह चाहे पिन या पासवर्ड कुछ भी हो, यह ना सिर्फ उपयोक्ता के लिए परेशानी भरा है बल्कि इस प्रणाली का रखरखाव भी काफी महंगा है.

आज के समाचार | Technology News in Hindi

Leave a Reply

%d bloggers like this: