महाराष्ट्र: समुद्र के किनारे रेड अलर्ट, NDRF की 10 टीमें तैनात

मुंबई, महाराष्ट्र।

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग की सूचना के बाद राज्य सरकार ने समुद्री इलाकों में रेड अलर्ट जारी कर दिया है. NDRF की 10 टीमें समुद्रीय किनारा क्षेत्रों में लोगों को जागरुक कर रही हैं. महाराष्ट्र की SDRF की 7 टीमें स्टेट रिजर्व पुलिस की 16 टीमों के साथ रायगढ़ से लेकर पालघर तक महाराष्ट्र के 720 किलोमीटर के समुद्रीय तटीय क्षेत्र में लगाई गई हैं.

NDRF टीम सचिन नलावड़े ने बताया कि निसर्ग तूफान से लोगों को बचाने के लिए 10 टीम तैनात की गई हैं. टीम को जरूरत के अनुसार नाव दी गई है. साथ ही तूफान से निपटने के लिए हर तरह की तैयारी है.कोरोना को देखते टीम को हुए PPE किट्स और सेनिटाइजर भी उपलब्ध करवाए गए हैं.

रायगढ़ की जिलाधिकारी निधि चौधरी ने बताया कि उनके यहां दो NDRF की टीम पहुंच चुकी हैं और दो टीम बहुत जल्द पहुंचने वाली हैं. जिले में निसर्ग तूफान से लोगों को बचाने के लिए हर तरह की आवश्यक तैयारी की जा रही है. लोगों को कल घर से न निकलने तथा मछुआरों को 3 जून को किसी भी हालत में समुद्र में न जाने का आदेश जारी किया गया है.

इसी तरह का आदेश रत्नागिरी, सिंधुदूर्ग, मुंबई, मुंबई उपनगर, ठाणे व पालघर जिले में भी जारी किया गया है. पालघर जिले में जिलाधिकारी कैलाश शिंदे ने भी किनारा क्षेत्र में लोगों को निसर्ग तूफान से सावधान रहने का निर्देश जारी किया है. इसलिए पालघर समुंद्रीय किनारों पर समुद्र में गए मछुआरे किनारे पर लौटने लगे हैं. मुंबई शहर व उपनगर में भी समुद्र किनारों के पास बसे झोपड़ों में रहने वालों को हटाया जा रहा है और समुद्र में न जाने की सूचना मछुआरों को दी गई है.

हिन्दुस्थान समाचार/राजबहादुर

Leave a Reply

%d bloggers like this: