अमित शाह ने ‘निसर्ग’ तूफान से निपटने के लिए बैठक की

केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (NDMA) के अधिकारियों के साथ बैठक की. इस दौरान गृहमंत्री ने 3 जून को महाराष्ट्र और गुजरात में ‘निसर्ग’ तूफान के खतरे को देखते हुए उससे निपटने की तैयारियों की जानकारी ली.

बैठक में NDRF ने बताया कि अरब सागर में चक्रवात ‘निसर्ग’ के खतरे को देखते हुए NDRF की 10 टीमें महाराष्ट्र में तैनात की गई हैं. इनमें 3 मुंबई में और 2 पालघर में हैं. ठाणे, रायगढ़, रत्नागिरी और सिंधुदुर्ग में एक-एक टीम है.

इसके अलावा दादरा-नागर हवेली और दमन व दीव में भी एक-एक टीम तैनात की गई है. गुजरात राज्य में NDRF की 11 टीमें तैनात की गई हैं.

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग ने जानकारी दी है कि पूर्वी-मध्य अरब सागर और लक्षद्वीप क्षेत्र के पास भारत के पूर्वी तट पर एक चक्रवाती तूफान आकार ले रहा है. 1 जून को चक्रवात पणजी (गोवा) से लगभग 360 किमी दक्षिण-पश्चिम में, मुंबई से 670 किमी दक्षिण-पश्चिम (महाराष्ट्र) और सूरत (गुजरात) से 900 किमी दक्षिण-पश्चिम में है.

मौसम विभाग के अनुसार, 3 जून को चक्रवाती तूफान निसारगा महाराष्ट्र के रायगढ़ जिले में हरिहरेश्वर और दमन के बीच उत्तर महाराष्ट्र और दक्षिण गुजरात के तटों को पार करेगा.

इस दौरान हवा की गति महाराष्ट्र और गुजरात के तटों के साथ पूर्व-मध्य और उत्तर-पूर्व अरब सागर में 90-100 किमी प्रति घंटे तक पहुंच जाएगी जो बढ़कर 110 किमी प्रति घंटे भी हो सकती है.

4 जून तक चक्रवात कमजोर पड़ जाएगा और हवा की गति 60 से 70 किमी प्रति घंटा तक रह जाएगी. इस तूफान के चलते 3 जून से कोंकण और गोवा में काफी तेज बारिश हो सकती है. महाराष्ट्र के कई हिस्सों में भी 3-4 जून के बीच भारी बारिश भी होगी.

हिन्दुस्थान समाचार/रवीन्द्र मिश्र

Leave a Reply

%d bloggers like this: