और इस तरह निर्मला सीतारमण ने तोड दी परंपरा…
  • राष्ट्रपति से मुलाकात के बाद वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण राष्ट्रपति भवन से निकल चुकी हैं
  • वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण इस बार लाल ब्रीफकेस की जगह लाल बहीखाते के साथ नज़र आईं

नई दिल्ली. आज मोदी सरकार की वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitaraman) अपना पहला बजट पेश करने जा रही है. ऐसे में महिलाओं से लेकर बुजुर्गों तक,बुजुर्गों से लेकर नौकरीपेशा, नौकरीपेशा से लेकर किसान तक सभी ने इस अपनी लिए कुछ खास की उम्मीदें लगा रखी हैं.

राष्ट्रपति से मुलाकात के बाद वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण राष्ट्रपति भवन से निकल चुकी हैं. अब वह केंद्रीय कैबिनेट की मीटिंग में हिस्सा लेंगी. जहां से बजट (Budget) को कैबिनेट की मंजूरी मिल गई है.

मुख्य आर्थिक सलाहकार कृष्णमूर्ति सुब्रमण्यम ने कहा कि ये भारतीय परंपरा है. ये पश्चिमी विचारों की गुलामी से हमारे मुक्त होने का संकेत है. ये बजट नहीं है, ये बही खाता है.

भारतीय इतिहास में ये पहली बार है जब कोई पूर्णकालिन महिला वित्‍त मंत्री सदन के पटल पर बजट रखेंगी. ऐसे में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के लिए ये बजट आसान नहीं रहने वाला है.उन्हें सुस्ती के दौर से गुजर रही अर्थव्यवस्था को रफ्तार देना,रोजगार बढ़ाना और किसानों की आय बढ़ाना जैसी कई चुनौतियां से गुजरना पड़ेगा.

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण इस बार लाल ब्रीफकेस की जगह लाल बहीखाते के साथ नज़र आईं. अपने भाषण में वो इसे आम बजट को ‘देश का बहीखाता’ के नाम से बोलेंगी.

मोदी सरकार का मानना है कि ये पश्चिमी संस्कृति से बाहर आकर देश की पुरानी परंपराओं से जुड़ने की शुरुआत है. बैग का लाल रंग भारतीय परंपराओं के हिसाब से शगुन का प्रतीक है.

वैसे तो वित्‍त मंत्री के बजट स्‍पीच की समयसीमा का कोई निर्धारण नहीं है लेकिन आमतौर पर ये स्‍पीच 1.30 घंटे से 2 घंटे तक की होती है. मतलब ये है कि वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमण का बजट भाषण 11 बजे से शुरू होकर करीब 1 बजे तक खत्म हो जाएगा.

Trending Tags- Nirmala Sitaraman | Minister of Finance of India | Narendra Modi | Aaj ka Samachar | News Today

Leave a Comment

%d bloggers like this: