पश्चिम बंगाल में लागू नहीं हुआ नया Traffic नियम, पढ़िए पूरा मामला

1 सितंबर से ट्रैफिक नियमों में कई बदलाव कर दिए गए हैं. मोदी सरकार ने यातायात नियमों का पालन नहीं करने वालों पर सख्त कार्रवाई करते हुए चालान को तकरीबन 10 गुना बढ़ा दिया है. यानी पहले जिस बात के लिए महज 100 रुपये का चलान काटा जाता था, वो अब 1000 रुपये में तब्दील कर दिया गया है. 1 सितंबर से ये नया नियम पूरे देश में लागू हो गया है , लेकिन इस तरह के चलान को पश्चिम बंगाल में अभी तक मंजूरी नहीं मिली है.

राज्य के परिवहन मंत्री शुभेंदु ने पहले ही घोषणा कर दी थी कि नए कानून को पश्चिम बंगाल में लागू नहीं किया जाएगा. उन्होंने कहा कि जब केंद्र सरकार नए कानून की सरंचना कर रही थी तब उनकी सरकार ने इसका विरोध किया पर मोदी सरकार ने उनकी नहीं सुनी.

उनका आरोप है कि इन नियम पर विचार विमर्श किए बिना इसको लागू कर दिया गया है. इस नए कानून को लागू करने को काफी परेशानी हो रही है. सरकार जल्द ही इस बारे में सोचेगी पर अभी इसे बंगाल में लागू नहीं किया गया है.

जानिए कौन से नियम बदल गए

1 सितंबर से लागू मोटर वाहन अधिनियम 2019 के प्रावधानों के अनुसार जो अन्य बड़े बदलाव किए गए है.

  • शराब पीकर गाड़ी चलाने पर 10 हजार तक का जुर्माना
  • बिना लाइसेंस गाड़ी चलाने पर 500 रुपये के स्थान पर 5 हजार रुपये का जुर्माना.
  • बिना सीट बेल्ट व हेलमेट के वाहन चलाने पर 100 के स्थान पर 1 हजार का जुर्माना.
  • अधिक रफ्तार के साथ गाड़ी चलाने पर 400 रुपये के स्थान पर 1 हजार का जुर्माना.
  • शराब पीकर गाड़ी चलाने पर 2 हजार के स्थान पर 10 हजार का जुर्माना.
  • दोपहिया वाहनों पर क्षमता से अधिक वजन मामले में 100 रूपये के स्थान पर 2 हजार का जुर्माने.
  • तीन महीने का भी लिए लाइसेंस निलम्बित हो सकता है.
  • नाबालिग ने की ड्रांइविंग मालिक को होगी तीन साल की सजा

इसके अतिरिक्त नाबालिग द्वारा ड्रांइविंग करने पर अभिभावक और वाहन के मालिक को 25 हजार रूपये तक के जुर्माने के साथ तीन साल की सजा का प्रावधान किया है.

सम्बन्धित बालक पर भी किशोर न्यायालय में मुकदमा चलाने के साथ- साथ वाहन का एक साल के लिए रजिस्ट्रेशन निरस्त होने संबंधी प्रावधान भी शामिल हैं

Leave a Reply

%d bloggers like this: