ऐसे लक्षण दिखें तो जरूर कराएं कोरोना की जांच, नई रिसर्च में हुआ खुलासा

Corona
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

देश में कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों में इजाफा हो रहा है. कोरना वायरस के रोज नए मामले चिंताजनक स्थिति में सामने आ रहे हैं. भारत में अबतक कोरोना से 5.28 लाख से भी ज्यादा लोग कोरोना संक्रमण का शिकार हो चुके हैं.

वहीं कई रिसर्च भी कोरोना की वैक्सीन, इसके लक्षणों आदि को लेकर चल रही है. इसी बीच कोरोना के नए लक्षण भी सामने आ रहे हैं. स्वास्थ्य विभाग की मुश्किलें इससे लगातार बढ़ती जा रही है.

ऐसे रहे हैं कोरोना के लक्षण

डॉक्टरों और स्वास्थ्य एक्सपर्ट्स की मानें तो कोरोना के लक्षणों में बुखार आना, सांस लेने में तकलीफ, खांसी, थकावट, आदि को देखा जाता रहा है. मगर समय के साथ साथ इसके नए लक्षणों की पहचान भी होती रही है. जिन मरीजों को ये लक्षण होते हैं उन्हें कोरोना की जांच की सलाह दी जाती है.

अब अमेरिका की मेडिकल संस्था सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रीवेंशन ने कोरोना के तीन नए लक्षण भी बताए हैं. अब देखने में आया है कि नाक बहना, उबकाई आना और डायरिया भी कोरोना के लक्षण बन सकते हैं.

अगर ऐसे लक्षण किसी मरीज को दिख रहे हैं तो इन्हें नजरअंदाज न करें. तत्काल रूप से ऐसे मरीजों को कोरोना की जांच करानी चाहिए. संस्था को ये नए लक्षण नजर आए हैं.

संस्था की मानें तो पहले खासी को कोरोना के लक्षण में शामिल किया गया था मगर अब नाक बहना भी इसमें शामिल है. इसके साथ ही मरीज को बेचैनी भी होती है. ऐसे लक्षणों में मरीज को कोरोना संक्रमण हो सकता है. मरीज को बुखार होने या न होने का इंतजार नहीं करना चाहिए, क्योंकि कई मामलों में बुखार नहीं होने पर भी कोरोना संक्रमण का खतरा बना रहता है.

उबकाई की शिकायत

उल्टी करने से पहले अगर उबकाई की शिकायत आ रही है तो इसे नजरअंदाज नहीं किया जा सकता. संस्था के मुताबिक अगर मरीज को बार बार उबकाई आ रही है तो ये खतरनाक साबित हो सकता है. मरीज को तत्काल कोरोना जांच करवानी चाहिए.

डायरिया से परेशान

बारिश के मौसम में डायरिया होना बड़ी बात नहीं है. वहीं अब कोरोना के मरीजों में भी डायरिया जैसे लक्षण देखने को मिले हैं. हाल में हई रिसर्च में सामने आया है कि अगर किसी को डायरिया की शिकायत है तो उसे जांच करानी चाहिए. ये कोरोना का संकेत हो सकता है.