NCW का AZAM को नोटिस
  • राष्ट्रीय महिला आयोग (NCW) ने सोमवार को आजम खान को महिला सांसद जयाप्रदा पर अभद्र टिप्पणी करने के संबंध में नोटिस भेजा है.
  • आजम खान को सबक सिखाया जाए.

समाजवादी पार्टी के नेता और रामपुर से महागठबंधन के उम्मीदवार आजम खान ने रामपुर की चुनावी जनसभा में अमर्यादित भाषा का इस्तेमाल करते हुए जया प्रदा के लिए विवादित बयान दिया था. इस बयान पर अब राष्ट्रीय महिला आयोग ने भी संज्ञान लिया है.

राष्ट्रीय महिला आयोग (NCW) ने सोमवार को आजम खान को महिला सांसद जयाप्रदा पर अभद्र टिप्पणी करने के संबंध में नोटिस भेजा है. NCW की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने आजम खान की टिप्पणी पर कड़ा ऐतराज जताया है.

उन्होंने कहा कि आजम हमेशा से महिलाओं के खिलाफ अभद्र भाषा का इस्तेमाल करते रहे हैं. उन्होंने आगे कहा, “जो व्यक्ति एक महत्वपूर्ण पद पर बैठा है वह इस तरह की गैरजिम्मेदाराना और अभद्र दिप्पणी कर रहा है. यह बहुत ही शर्मानाक है.”

शर्मा ने कहा कि मौजूदा चुनाव में यह दूसरी बार है जब आजम खान ने महिलाओं के खिलाफ अभद्र भाषा का इस्तेमाल किया है. महिला आयोग ने इस मुद्दे पर खुद ही संज्ञान लिया है.

इस संबंध में आजम को नोटिस भेज दिया गया है. महिला आयोग ने कहा कि इस संबंध में चुनाव आयोग को भी पत्र लिखा जा रहा है ताकि उनके खिलाफ कठोर कार्रवाई हो.

अब मौका आ चुका है कि जब आजम खान को सबक सिखाया जाए. यह हद की पराकाष्ठा है अब उन्हें ये सब रोकना होगा. रेखा शर्मा ने कहा कि उन्हें लगता है कि इस तरह के लोगों के खिलाफ महिलाओं को अपने मत का इस्तेमाल करना चाहिए.

बयान से पलटे

आजम खां अपने बयान से पलट गए हैं. रविवार को आजम ने अपने बयान को लेकर सफाई देते हुए कहा कि मैनें किसी का नाम नहीं लिया. मैं जानता हूं मुझे क्या कहना चाहिए. कोई साबित करे कि मैंने किसी का अपमान किया है तो मैं चुनाव ही नहीं लडूंगा.

विवादित बोल पर दी सफाई

उन्होंने कहा कि दिल्ली के एक व्यक्ति का जिक्र कर रहा था जो अस्वस्थ है, जिसने कहा था कि मैं 150 राइफलें लेकर आया था. उसने आगे कहा था कि अगर मैं आजम को देखता तो उसे गोली मार देता.

विवाद बढ़ता देख आजम ने सफाई दी है. उन्होंने कहा कि मैं उसके बारे में बात करते हुए कहा था कि लोगों को जानने में काफी समय लगा और बाद में पता चला कि वह आरएसएस शॉर्टस पहने हुए था.

ये थे आजम के विवादित बोल

रामपुर में आजम ने एक विवादित बयान दिया था. उन्होंने कहा था कि जिसको हम उंगली पकड़कर रामपुर लाए, आपने 10 साल जिनसे प्रतिनिधित्व कराया, उसकी असलियत समझने में आपको 17 साल लगे. मैं 17 दिन में पहचान गया कि इनका अंडरवियर खाकी रंग का है.

जनसभा के दौरान उन्होंने लोगों से सवाल किया था कि क्या राजनीति इतनी गिर जाएगी कि 10 साल जिसने रामपुर वालों का खून पिया, हम जिसको उंगली पकड़कर रामपुर लाए. जिसका हमने पूरा ख्याल रखा. उसने हमारे ऊपर क्या क्या आरोप नहीं लगाए.

Trending Tags: Loksabha Election 2019, Election 2019, Congress 2019, Indian General Election 2019, BJP 2019, Congress 2019, 2019 Loksabha Election Prediction.

%d bloggers like this: