डूबने जा रही है अनिल अंबानी की नैया, एनसीएलटी ने उठाया ये बड़ा कदम
  • रिलायंस कम्युनिकेशंस (आरकॉम) पर मंगलवार को दिवालिया कार्रवाई शुरू हो चुकी है
  • इस समय अनिल अनिल अंबानी की आरकॉम पर 31 बैंकों का करीब 50,000 करोड़ रुपये का कर्ज है

नई दिल्ली. अनिल अंबानी जो कि कभी देश के सबसे अमीर शख्स की लिस्ट में शामिल हुआ करते थे. साथ ही उनकी कंपनी रिलायंस कम्युनिकेशंस (आरकॉम) का नाम देश के टॉप कंपनियों में लिया जाता था. आज वो कंपनी दिवालिया घोषित होने की कगार पर है.

आरकॉम पर दिवालिया कार्रवाई शुरू

रिलायंस कम्युनिकेशंस (आरकॉम) पर मंगलवार को दिवालिया कार्रवाई शुरू हो चुकी है. इसके लिए कर्जदाताओं ने राष्ट्रीय कंपनी विधि न्यायाधिकरण (एनसीएलटी) से नया रिजॉल्यूशन प्रोफेशनल (आरपी) नियुक्‍त करने के अलावा कर्जदाताओं की समिति (सीओसी) गठित करने की अपील की है. यह किसी कंपनी के खिलाफ दिवालिया प्रक्रिया शुरू करने के लिए पहला कदम होता है.
खुद को बचाने के लिए आरकॉम ने रिजॉल्यूशन प्रोफेशनल के जरिये दिवाला प्रक्रिया में 13 माह की छूट मांगी है.कंपनी ने इसके लिए सुप्रीम कोर्ट से मिले स्थगन का हवाला दिया है.

आरकॉम पर है भारी कर्ज-

इस समय अनिल अनिल अंबानी की आरकॉम पर 31 बैंकों का करीब 50,000 करोड़ रुपये का कर्ज है. आरकॉम ने सबसे अधिक कर्ज भारतीय स्टेट बैंक (SBI) से लिया है.रिलायंस ने रिजॉल्यूशन प्रोफेशनल का चयन करने के लिए तीन मई को बैठक भी की थी. एनसीएलटी की मुंबई बेंच में अगली सुनवाई 30 मई को होगी.

बड़े भाई से ली थी मदद-

बता दें कि इस साल मार्च में आरकॉम के चेयरमैन अनिल अंबानी ने बड़े भाई की मदद से एरिक्सन के 480 करोड़ रुपए चुकाए हैं जिसके बाद ही वो सुप्रीम कोर्ट की अवमानना से बच पाये हैं, नहीं तो अनिल अंबानी को जेल जाना पड़ता. एरिक्सन ही पिछले साल आरकॉम के खिलाफ एनसीएलटी गई थी.

जाना-माना नाम थी ऑरकॉम-

अब दिवालिया हो चुकी आरकॉम एक समय में देश की टॉप कंपनी थी. आरकॉम ने लोगों को सिर्फ 500 रुपए में मोबाइल सेवाएं दी है. लेकिन हालांकि लोकप्रियता के चरम पर पहुंचने के बाद भी कंपनी की वित्तीय हालत खराब हो गई और अब वो दिवालिया होने की कगार पर है.

Trending Tags- Reliance communication news | Reliance communication nclt order | Anil ambani reliance | News today

%d bloggers like this: