पहली बार संसद पहुंचे Nakul Nath, पिताजी आए छोड़ने

17वीं लोकसभा का पहला संसद सत्र आज (सोमवार) से शुरू हो गया है. संसद में इस बार कई ऐसे चेहरे दिखेंगे जो पहली बार लोकसभा का चुनाव जीते हैं. मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के बेटे नकुलनाथ पहली लोकसभा चुनाव जीतकर संसद पहुंचे. उनको छोड़ने के लिए पिता कमलनाथ भी साथ में आए.

विरासत में मिली सांसदी

नकुलनाथ ने एमपी की छिंदवाड़ा सीट से चुनाव जीता है. मध्य प्रदेश की 29 लोकसभा सीटों में से बीजेपी ने 28 पर कब्जा जमाया, सिर्फ नकुलनाथ ही जीतने में कामयाब रहे. इस सीट से पहले उनके पिता कमलनाथ 9 बार सांसद चुने जाते रहे हैं. इसलिए ये सीट उनको विरासत में मिली है. प्रदेश में पार्टी की इतनी बुरी हार के लिए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कमल नाथ से नाराजगी जताते हुए, उनपर पुत्रमोह तक का आरोप लगाया है.

पिता से 5 गुना ज्यादा अमीर हैं नकुलनाथ

उद्योग जगत से राजनीति में आए नकुल नाथ ने पहली बार में ही लोकसभा में पहुंचने में कामयाबी हासिल की है. उनके नामांकन पत्र के अनुसार वे अपने पिता और एमपी के सीएम कमलनाथ से पांच गुना ज्यादा संपत्ति के मालिक हैं.

शपथ पत्र में दी गई जानकारी के मुताबिक नकुलनाथ के पास 615.93 करोड़ रूपये से अधिक की चल सपत्ति और 41.77 करोड़ रूपये से ज्यादा अचल संपत्ति है. उनकी पत्नी के पास 2.30 करोड़ रूपये से अधिक की चल संपत्ति है. वहीं पिता कमलनाथ और मां अलकानाथ के पास 124 करोड़ से ज्यादा की संपत्ति है.

कमलनाथ के शपथ पत्र के अनुसार उनके पास छिंदवाड़ा में 36 करोड़ से ज्यादा की खेती की जमीन है. वहीं नकुल की संपत्ति में शेयर, बांड, म्यूचुअल फंड, बीमा और बैंक बैलेंस शामिल हैं.

नकुलनाथ ने रखी पिता की लाज

मध्य प्रदेश की छिंदवाड़ा लोकसभा सीट पर आजादी के बाद से आजतक कांग्रेस चुनाव नहीं हारी है. इस बार सूबे के मुखिया कमलनाथ की प्रतिष्ठा यहां दांव पर थी. कमलनाथ के बेटे नकुलनाथ ने इस सीट पर 37 हजार 536 वोटों के मामूली अंतर से जीत हासिल की है.

Leave a Comment

%d bloggers like this: