लखनऊ के अस्पताल में वेटिलेटर सपोर्ट पर MP के राज्यपाल लालजी टंडन, हालत नाजुक

lal
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

नई दिल्ली. मध्य प्रदेश के राज्यपाल लालजी टंडन (Governor Lalji Tondon) की हालत नाजुक बनी हुई है. लालजी टंडन का इलाज लखनऊ के मेदांता हॉस्पिटल (Medanta Hospital) में चल रहा है. अस्पताल की ओर से जारी किए गए बुलेटिन के अनुसार उन्हें किडनी, लिवर और फेफड़ों में समस्याओं के चलते वेंटिलेटर पर रखा गया है.

राज्यपाल लालजी टंडन की हालत नाजुक बनी हुई है. उन्हें इलेक्टिव वेंटिलेटर सपोर्ट पर रखा गया है. निदेशक मेदांता अस्पताल लखनऊ राकेश कपूर ने राज्यपाल की हालात को गंभीर बताया है. 11 जून को सुबह सांस की दिक्कत, पेशाब की परेशानी और बुखार के चलते उन्हें मेदांता अस्पताल में भर्ती कराया गया था.

राज्यपाल लालजी टंडन को फेफड़े, किडनी और लीवर की दिक्कत है. लालजी टंडन का डायलिसिस भी किया जा रहा है. क्रिटिकल केयर विशेषज्ञों की टीम की निगरानी में राज्यपाल का इलाज हो रहा है.

राज्यपाल लालजी टंडन का कोरोना टेस्ट(Corona Test) भी करवाया गया था. उनकी जांच रिपोर्ट निगेटिव आई है. बता दें वे 10 दिन की छुट्टी पर लखनऊ पहुंचे थे. जिसके बाद उनकी तबीयत बिगड़ गई.

शुरुआती जांच में डॉक्टरों को पेशाब में संक्रमण का पता चलने पर इलाज शुरू कर दिया. इस दौरान उनकी तबियत में सुधार हुआ. जांच के दौरान उनके लिवर में भी दिक्कत पाई गई और उनका इमरजेंसी ऑपरेशन किया गया.

यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ (Cm Yogi Adityanath) ने अस्पताल जाकर टंडन का हालचाल जाना. मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) ने भी राज्यपाल लालजी टंडन के परिवार से मोबाइल पर बातचीत कर उनके स्वास्थ्य की जानकारी ली. उनके जल्दी ठीक होने की शुभकामनाएं दी. समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने ट्वीट कर की उनके जल्द स्वस्थ्य होने की कामना की.

उत्तर प्रदेश में बीजेपी तथा बीएसपी (BSP) की सरकार में कैबिनेट मंत्री रहे लालजी टंडन ने लखनऊ (Lucknow) से सांसद के रूप में पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेयी की विरासत संभाली थी. लालजी टंडन उत्तर प्रदेश में लखनऊ के मूल निवासी हैं. राज्यपाल बनने से पहले उनकी गिनती यूपी के कद्दावर बीजेपी नेताओं में होती थी.