म.प्र. में बीजेपी के नेता की आत्महत्या के मामले में थाना प्रभारी लाइन हाजिर, मजिस्ट्रीयल जांच के आदेश

जिले के अमानगंज थाने में बीजेपी नेता ने झूठी शिकायत से परेशान होकर बीते दिनों आत्महत्या कर ली गई थी. इस मामले में पुलिस अधीक्षक ने शुक्रवार को थाना प्रभारी को लाइन हाजिर कर दिया है. एसपी ने घटना की मजिस्ट्रीयल जांच कराये जाने की बात भी कही.

उधर, घटना के बाद से ही गांव में तनाव का माहौल है. ऐहतियात के तौर पर एसपी ने अमानगंज और मृतक बीजेपी नेता के गांव में बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात कर दिया है.

ग्राम कमताना निवासी बीजेपी नेता कृष्ण कुमार पांडे के खिलाफ कुछ महीने पहले एक महिला ने अमानगंज थाने में छेड़खानी का मामला दर्ज कराया था. इसी मामले में गुरुवार को महिला की छोटी बहन भी बीजेपी नेता पांडे के खिलाफ रिपोर्ट लिखाने थाने पहुंच गई. जानकारी मिलने पर बीजेपी नेता भी थाने पहुंच गए. उन्होंने पुलिस को बताया कि यह शिकायतें झूठी हैं और उन्हें परेशान किया जा रहा है लेकिन पुलिस ने उनकी बात नहीं सुनी और उनकी शिकायत दर्ज करने से भी पुलिस ने मना कर दिया.

इससे परेशान होकर उन्होंने थाने के बाथरूम में जाकर सल्फास की गोलियां खा लीं. जब वे बाथरूम से बाहर आए तो उन्हें उल्टियां होने लगीं. लोगों ने उनसे उल्टियों का कारण पूछा तो उन्होंने जहर खाने की बात कही. इस पर पुलिसकर्मियों ने उन्हें तत्काल अस्पताल पहुंचाया, जहां प्राथमिक उपचार के बाद सतना रेफर कर दिया, लेकिन सतना ले जाते समय रास्ते में ही उनकी मौत हो गई.

शुक्रवार को सुबह सतना जिला अस्पताल में उनका पोस्टमार्टम होना था लेकिन उनके परिजन समर्थकों के साथ अस्पताल पहुंच गए और जमकर हंगामा किया. परिजन पोस्टमार्टम नहीं कराने की जिद पर अड़े थे. उनकी मांग थी कि आरोपितों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाए. काफी देर तक हंगामा करने के बाद पुलिस अधिकारियों ने उन्हें समझाया, तब जाकर शव का पोस्टमार्टम हुआ और शव उनके पैतृक गांव पहुंचाया गया.

एसपी मयंक अवस्थी ने बताया कि मामला बहुत गंभीर है. इस मामले में अमानगंज थाना प्रभारी सुनीता जाटव को लाइन हाजिर कर दिया गया है. उन्होंने बताया कि घटना सीसीटीवी कैमरों में कैद हो गई है और पूरे मामले की मजिस्ट्रीयल जांच कराई जाएगी. उन्होंने लोगों से धैर्य बनाए रखने की अपील की है.

हिन्दुस्थान समाचार / मुकेश तोमर

Leave a Comment

%d bloggers like this: