मप्र: विधानसभा अध्यक्ष एनपी का आधी रात को इस्तीफा, आज से विस सत्र

भोपाल, 24 मार्च (हि.स.). मध्यप्रदेश में सत्ता परिवर्तन हो गया है. शिवराज सिंह चौहान चौथी बार फिर मुख्यमंत्री बन गए. सत्ता संभालते ही मुख्यमंत्री शिवराज सिंह सक्रिय हो गए और विधानसभा सत्र बुला लिया. नई सरकार के अस्तित्व में आने के बाद आज मंगलवार से विधानसभा सत्र शुरू होने जा रहा है. इधर, सोमवार देर रात विधानसभा अध्यक्ष एनपी प्रजापति ने भी अपने पद से इस्तीफा दे दिया है. उन्होंने विधानसभा उपाध्यक्ष हीना कांवरे को अपने इस्तीफे का पत्र भेजा है. 

विधानसभा सत्र शुरू होने से पहले विधानसभा अध्यक्ष नर्मदा प्रसाद प्रजापति ने आधी रात को ही स्पीकर पद से इस्तीफा दे दिया है. विधानसभा के प्रमुख सचिव एपी सिंह ने बताया कि विधानसभा अध्यक्ष ने अपना इस्तीफा विधानसभा की उपाध्यक्ष को संबोधित करते हुए दिया है.

एनपी प्रजापति ने अपने इस्तीफे में लिखा कि नैतिकता के आधार पर पद से इस्तीफा देता हूं. हालांकि वे भी सोमवार को भोपाल में नहीं थीं.

एनपी प्रजापति के इस्तीफे को उनके बेटे नीर प्रजापति ने भी सोशल मीडिया पर शेयर किया. नीर ने अपने पोस्ट में लिखा- आपने पूरे सिद्धांतों, मूल्यों, स्वाभिमान और नैतिकता रखते हुए अपना कर्तव्य निभाया, आपको इतिहास याद रखेगा, मुझे आपका बेटा होने पर गर्व है. मध्य प्रदेश में चल रहे सियासी घमासान के बीच बागी विधायकों का इस्तीफा स्वीकार न करने को लेकर वे चर्चा में रहे थे.

चार दिवसीय विधानसभा सत्र आज से

शिवराज सिंह चौहान के मुख्यमंत्री बनते ही विधानसभा सत्र भी शुरू हो रहा है. मंगलवार से शुरू हो रहे सत्र के पहले ही दिन भाजपा की यह नई सरकार सदन में विश्वास मत पेश करेगी. यह सत्र 27 मार्च तक चलेगा.  4 दिन चलने वाले इस सत्र में कुल 3 बैठकें होंगी. सत्र के पहले दिन सरकार के प्रति विश्वास मत लाया जाएगा. इस दौरान वित्तीय वर्ष 2020-21 का लेखानुदान भी पेश किया जाएगा. वर्तमान विधानसभा का यह छठा सत्र होगा.

हिन्दुस्थान समाचार/ नेहा पाण्डेय/मयंक/सुनीत

Leave a Reply

%d bloggers like this: