यूपी में बदला मौसम का मिजाज, तेज बारिश होने के आसार

  • जे.पी. गुप्ता ने बताया कि बीते चौबीस घंटों में प्रदेश में राजधानी लखनऊ 38.3 डिग्री सेल्सियस के साथ सबसे गरम स्थान रही
  • नेपाल में भारी बारिश पर प्रदेश के तराई के क्षेत्रों में बाढ़ की स्थिति पैदा हो सकती है

लखनऊ: मानसून के सक्रिय होने का असर मौसम में देखने को मिल रहा है. पिछले चौबीस घंटों के दौरान प्रदेश के कई हिस्सों में बारिश हुई. वहीं अगले चौबीस से अड़तालीस घंटों के दौरान भी ऐसा ही मौसम बने रहने की संभावना है. हालांकि धूप और बादलों की आवाजाही के बीच उमस भी अपना असर दिखायेगी.

आंचलिक मौसम विज्ञान केन्द्र के निदेशक जे.पी. गुप्ता ने बताया कि बीते चौबीस घंटों में प्रदेश में राजधानी लखनऊ 38.3 डिग्री सेल्सियस के साथ सबसे गरम स्थान रही. वहीं 22.3 डिग्री सेल्सियस के साथ मेरठ न्यूनतम तापमान वाला स्थान रहा.

राजधानी और आसपास के क्षेत्रों में सोमवार सुबह से ही बदली के बीच में धूप निकलने के कारण उमस भरी गर्मी का असर देखने को मिला. बारिश का असर कम होने पर धूप की वजह से इस तरह का मौसम देखने को मिल रहा है.

सोमवार को आगरा का न्यूनतम तापमान 25.7 डिग्री और अधिकतम तापमान 35 डिग्री, अलीगढ़ का न्यूनतम तापमान 27 डिग्री और अधिकतम तापमान 35 डिग्री, इलाहाबाद का न्यूनतम तापमान 26.8 डिग्री और अधिकतम तापमान 32 डिग्री, बहराइच का न्यूनतम तापमान 24.8 डिग्री और अधिकतम तापमान 33 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया.

इसके अलावा बांदा का न्यूनतम तापमान 24 डिग्री और अधिकतम तापमान 33 डिग्री, बरेली का न्यूनतम तापमान 25.5 डिग्री और अधिकतम तापमान 34 डिग्री, गोरखपुर का न्यूनतम तापमान 26.2 डिग्री और अधिकतम तापमान 31 डिग्री, झांसी का न्यूनतम तापमान 24.2 डिग्री और अधिकतम तापमान 32 डिग्री, कानपुर का न्यूनतम तापमान 26.4 डिग्री और अधिकतम तापमान 34 डिग्री, लखनऊ का न्यूनतम तापमान 25.1 डिग्री और अधिकतम तापमान 33 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया.

वहीं मेरठ का न्यूनतम तापमान 22.3 डिग्री और अधिकतम तापमान 34 डिग्री, मुरादाबाद का न्यूनतम तापमान 25 डिग्री और अधिकतम तापमान 33 डिग्री और वाराणसी का न्यूनतम तापमान 25.6 डिग्री और अधिकतम तापमान 30 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया.

मौसम विभाग के मुताबिक प्रदेश के मध्य भागों और उससे सटे आस-पास के क्षेत्रों पर निम्न दबाव क्षेत्र बने होने के कारण राज्य में बारिश की स्थिति बनी हुई है. राज्य में इस सिस्टम के कुछ और समय तक बने रहने के कारण बारिश के और तेज होने की सम्भावना है. कुछ स्थानों पर भारी बारिश के कारण जनजीवन पर असर पड़ सकता है.

इस महीने के मध्य तक मॉनसून ट्रफ हिमालय की तलहटी की ओर जाएगा. इस वजह से हिमालय की तलहटी के इलाकों में मौसम की गतिविधियों में वृद्धि होने की सम्भावना है. मौसम विज्ञानियों के मुताबिक इन परिस्थितियों का असर प्रदेश के मौसम में देखने को मिलेगा और आने वाले दिनों में लगातार बारिश हो सकती है.

नेपाल में भारी बारिश पर प्रदेश के तराई के क्षेत्रों में बाढ़ की स्थिति पैदा हो सकती है. इसलिए संभावित बाढ़ को लेकर सभी जगह प्रदेश सरकार के निर्देश पर स्थानीय प्रशासन ने तैयारियां की हुई हैं. इसके लिए बाढ़ चौकियां क्रियाशील करने से लेकर संवेदनशील तटबंधों पर नजर रखी जा रही है.

राजधानी और आसपास के क्षेत्रों में अगले चौबीस घंटों के दौरान आसमान में बादल छाये रहेंगे. बारिश और गरज चमक के साथ बौछार पड़ने के आसार हैं. न्यूनतम तापमान 25 डिग्री और अधिकतम तापमान 33 डिग्री सेल्सियस रहने की सम्भावना है.

हिन्दुस्थान समाचार/संजय

Trending Tags- Weather News | Wesather Forecast | Weather Updates

Leave a Reply