मोदी लहर ने तोड़ दिए सारे सियासी फॉर्मूले

  • पॉलिटिकल पिच पर अपनी जीत को लेकर आश्वस्त दो पूर्व मुख्यमंत्री और सियासी धुरंधर आउट हो गये
  • भाजपा और उसकी सहयोगी आजसू ने राज्य की 14 में से 12 सीटों पर कब्जा कर लिया. इस बार झारखंड से दो महिलाएं लोकसभा पहुंचेंगी

ड़ॉ. शारदा वंदना

झारखंड में लोकसभा चुनावों के नतीजे ने कई सियासी प्रतिमान गढ़े हैं. क्षेत्रीय क्षत्रपों के गुरुर तोड़े तो पुरुषों के सियासी वर्चस्व को चुनौती देकर महिला नेत्रियों ने अपना लोहा मनवाया. 

मोदी का जादू मतदाताओं के सिर चढ़ कर ऐसा बोला की देखते ही देखते राज्य की पॉलिटिकल पिच पर अपनी जीत को लेकर आश्वस्त दो पूर्व मुख्यमंत्री और सियासी धुरंधर आउट हो गये. 

भाजपा और उसकी सहयोगी आजसू ने राज्य की 14 में से 12 सीटों पर कब्जा कर लिया. इस बार झारखंड से दो महिलाएं लोकसभा पहुंचेंगी. 

वहीं, इस बार पांच नये चेहरे भी संसद की शोभा बढ़ाएंगे. इसके साथ ही भाजपा के तीन उम्मीदवारों ने लोकसभा चुनाव में जीत की हैट्रिक लगायी है. 

झारखंड की सबसे हॉट सीट दुमका से आठ बार जीत दर्ज कर चुके झारखंड के कद्दावर नेता झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) के अध्यक्ष शिबू सोरेन को भाजपा के सुनील सोरेन ने 36 हजार से अधिक मतों से शिकस्त देकर झामुमो के अभेद किले को धराशायी कर दिया.

कोडरमा संसदीय सीट से झारखंड विकास मोर्चा (झाविमो) के अध्यक्ष बाबूलाल मरांडी को इस बार अन्नपूर्णा ने बहुत बड़े मार्जिन से हराया. वहीं, सिंहभूम सीट से भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मण गिलुआ को कांग्रेस की गीता कोड़ा ने भारी मतों से पराजित किया.

2004 और 2009 में लगातार रांची संसदीय सीट से जीत दर्ज कर चुके कांग्रेस के दिग्गज नेता सुबोधकांत सहाय को एक बार फिर हार का स्वाद चखना पड़ा. सुबोध को पहली बार चुनाव लड़ रहे संजय सेठ ने करीब दो लाख 75 हजार से अधिक मतों से हराया. 

दूसरी तरफ धनबाद में कांग्रेस उम्मीदवार कीर्ति आजाद बिहार के दरभंगा से और चतरा में राजद उम्मीदवार सुभाष यादव दोनों बोरो प्लेयर को हार का सामना करना पड़ा. 

तो वहीं लोकसभा चुनाव में पहली बार एनडीए समर्थित आजसू की धमक संसद में होगी. गिरिडीह से आजसू उम्मीदवार चंद्रप्रकाश चौधरी संसद पहुंचेंगे. 

2019 का चुनाव इस मायने में भी ऐतिहासिक रहा कि झामुमो का गढ़ माना जाने वाले संथाल की दुमका सीट भाजपा के खाते में चली गई. जबकि राजद और झाविमो का खाता भी नहीं खुला.

पूरा लेख पढ़ें युगवार्ता के 02 जून के अंक में…

Trending Tags- Aaj Ka Samachar | Narendra Modi | Modi | Loksabha Election

2 thoughts on “मोदी लहर ने तोड़ दिए सारे सियासी फॉर्मूले”

Leave a Reply

%d bloggers like this: