यूपीः कानून मंत्री बृजेश पाठक की कोरोना से तबियत बिगड़ी, अस्पताल में भर्ती

Brajesh Pathak BJP
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

यूपी में कोरोना से हालात खराब होते जा रहे हैं. योगी सरकार में कानून मंत्री बृजेश पाठक भी कोरोना संक्रमित हो चुके हैं. उन्हें सांस लेने में दिक्कत होने पर अस्पताल में भर्ती कराया गया है. आज (रविवार) सुबह उनकी अचानक तबियत बिगड़ने के बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

इस समय उन्हें लखनऊ स्थित एसपीजीआई में भर्ती कराया गया है. उन्हें आईसीयू वार्ड में शिफ्ट किया गया है. जहां डॉक्टरों की एक टीम उनकी देखरेख कर रही है. आईसीयू प्रभारी डॉ. देवेंद्र गुप्ता ने बताया कि डॉक्टरों की टीम मंत्री जी का इलाज कर रही है. समय-समय पर उनके सेहत की अपडेट दी जाएगी.

बृजेश पाठक की 5 अगस्त को कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी, जिसके बाद से वे होम आइसोलेशन में थे. उनकी पत्नी भी कोरोना पॉजिटिव पाई गईं थीं. जिसके बाद पूरे परिवार को क्वारंटीन कर दिया गया था. उन्होंने खुद ही अपने कोरोना पॉजिटिव होने की जानकारी दी थी.

उन्होंने सोशल मीडिया पर लिखा था कि कोरोना के लक्षण होने के बाद मैंने डॉक्टरों की सलाह पर अपना टेस्ट कराया था जिसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है. पिछले कुछ दिनों से जो भी लोग मेरे संपर्क में आए हों, उनसे अनुरोध है कि वे सरकार के दिशा-निर्देशों का पालन करते हुए खुद क्वारंटाइन हो जाएं और अपनी जांच कराएं.

अब तक योगी सरकार के 8 मंत्री कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं. कोरोना संक्रमित मंत्रियों में जय प्रताप सिंह, राजेंद्र प्रताप सिंह, धर्म सिंह सैनी, उपेंद्र तिवारी और चेतन चौहान भी शामिल हैं. इसके अलावा कैबिनेट मंत्री मोती सिंह और महेंद्र सिंह भी कोरोना की जद में आ चुके हैं. वहीं कमल रानी वरुण की कोरोना की वजह से निधन हो गया है.

इसके अलावा प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह भी इस वायरस से संक्रमित हो चुके हैं. प्रदेश में 46 हजार 177 कोरोना के मामले एक्टिव हैं. इनमें 15 हजार 678 मरीज होम आइसोलेशन में हैं, जबकि 1352 लोग प्राइवेट हॉस्पिटल में और 178 मरीज सेमी पेड फैसिलिटी में हैं. बाकी कोरोना संक्रमित एल-1, एल-2, एल-3 अस्पतालों में भर्ती हैं.