गोंडा- घर बैठे मिलेगा प्रवासी गर्भवती महिलाओं और बच्चों को पोषक आहार

thumb-3
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

गोंडा. (हि.स.). कोरोना वायरस के कारण गैर प्रांतों से घर आए प्रवासियों को सेहतमंद बनाए रखने के लिए कवायद शुरू हो गई है. गर्भवती, धात्री और बच्चों को घर-घर जाकर पोषाहार का वितरण किया जाना है. इसके लिए आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को चिन्हांकन की जिम्मेदारी सौंपी गई है.

जिला कार्यक्रम अधिकारी मनोज कुमार ने बताया कि गैर प्रांतों से जिले में आई गर्भवती व कुपोषित बच्चों को चिन्हित करने के लिए सभी परियोजनाओं की 2830 आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं की ड्यूटी लगाई गई है.

इसके साथ ही पोषाहार वितरण भी शुरू कराया गया है. ये पोषाहार पूर्व में चयनित लाभार्थियों का था, जो सभी केंद्रों पर भेज दिया गया है.

जुलाई में 616 गभर्वती/धात्री और छह महीने से छह साल तक की आयु वाले 1711 बच्चों को पोषाहार घर-घर जाकर आंगनबाड़ी कार्यकर्ता देंगे. डीपीओ ने बताया कि पात्रों के सर्वे का कार्य एक जून से लगातार चल रहा है. शारीरिक दूरी बनाकर पोषाहार का वितरण करने के निर्देश दिए गए हैं.

हिन्दुस्थान समाचार/इमरान आरिफ